ऐसे वर्ल्ड हेरिटेज सिटी बनेगी राम की नगरी अयोध्या!

By Tejnews.com 2017-11-02 उत्तर प्रदेश     

एक तरफ योगी सरकार अयोध्या को सजाने-संवारने के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर रही है. वहीं दूसरी तरफ राम की इस नगरी को वर्ल्ड हेरिटेज सिटी के तौर पर प्रतिष्ठित करने की कोशिशें भी शुरू हो गई हैं.

सब कुछ ठीक रहा तो वह दिन दूर रही, जब यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज सिटी की लिस्ट में अयोध्या का नाम भी शामिल हो जाएगा.

इस मुहिम की अगुवाई फैजाबाद के अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर मनोज दीक्षित कर रहे हैं. उनके साथ ही कई शिक्षाविद लगे हुए हैं. इनमें बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में भूगोल विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर राना पीवी सिंह की भी सहायता ली जा रही है.

सिर्फ अहमदाबाद को मिला है ये स्टेटस


फैजाबाद के अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर मनोज दीक्षित ने बताया कि वर्ल्ड हेरिटेज सिटी की पूरी प्रक्रिया में डेढ़ से दो साल का समय लगता है. भारत में सिर्फ एक शहर अहमदाबाद ही वर्ल्ड हेरिटेज सिटी में शामिल हो सका है. वह भी आठ सालों के प्रयास के बाद. दूसरा काशी का प्रोजेक्ट पिछले 5 साल से लंबित पड़ा हुआ है.

उन्होंने बताया कि प्रोफेसर राना पीवी सिंह ने काशी का प्रोजैक्ट भी तैयार किया है. जब हमने ये प्रोजेक्ट शुरू किया तो उनसे संपर्क किया. वह राजी हो गए.

उन्होंने बताया कि अयोध्या को लेकर हम जो डीपीआर बना रहे हैं, उसे हम राज्य सरकार से लेकर यूनेस्को तक में जमा कर देंगे. उसके बाद राज्य और देश की लॉ​बिंग पर निर्भर करता है कि कैसे इस प्रोजेक्ट पर सहमति बन जाए. हालांकि जैसा प्रोजेक्ट हमने अयोध्या का बनाया है. उस हिसाब से हम उम्मीद करते हैं कि इसे बहुत जल्द ही अप्रूवल मिल जाना चाहिए.

यूनेस्को के मानकों को पूरा करने में लगेंगे करीब दो साल

मनोज दीक्षित ने बताया कि इसकी प्रक्रिया काफी लंबी है. यूनेस्को में जाने से पहले आपको अपने दावों को पहले वेरिफाई कराना होता है. मतलब अगर हम अयोध्या की किसी चीज पर दावा करते हैं कि ये यूनेस्को किस मानक का पूरा करती है. तो उसे हमें अंतर्राष्ट्रीय जनरल पर हमें पब्लिश कराना होता है. जब ये पब्लिश हो जाता है तो तमाम ऐसे लोग जो उस पर काम कर रहे होते हैं, वह उसमें खामियां बताते हैं या प्रशंसा करते हैं या किसी प्वाइंट पर आपत्ति जताते हैं. इसके बाद हम उन आपत्तियों, खामियों को सही करते हैं.

उन्होंने बताया कि यूनेस्को के मानक के हर बिंदु पर इसी प्रक्रिया को अपनाया जाता है. प्रोफेसर ने बताया कि इस प्रक्रिया में हमारे तीन पेपर पब्लिश हो चुके हैं. इन सभी पर सहमति करीब-करीब हो चुकी है. कुल 8 पेपर पब्लिश होने हैं.

दावेदारी के लिए यूनेस्को के 10 में से 8 मानकों पर खरी उतरेगी अयोध्या

उन्होंने बताया कि खास बात ये है कि ​दुनिया भर में जो भी वर्ल्ड हेरिटेज सिटी बनी हुई हैं, वह इन 10 में से 2 या 3 बिंदुओं को सब्सक्राइब करती रही हैं. अधिकतम 4 बिंदु से ऊपर कोई नहीं गया है. हम अयोध्या का केस 8 बिंदुओं पर ले जा रहे हैं. सिर्फ दो बिंदुओं पर हम दावा नहीं कर सकते क्योंकि न तो यहां समुद्र है, न ही पहाड़ है.

प्रोफेसर मनोज दीक्षित ने बताया कि पूरे प्रोजैक्ट के दो हिस्से हैं. एक तो साइंटिफिक है. जिसमें उदाहरण के दौर पर शहर की ऐतिहासिकता, ये कब से है आदि. इनकी कार्बन डेटिंग आदि की जानकारी प्रोजेक्ट में रहनी है. दूसरा है खासियत. इसमें हमने परंपरा को जोड़ा है. जैसे अयोध्या एक ऐसी जगह हैं, जहां आपको चौबीसों घंटे कहीं न कहीं रामधुन जरूर सुनाई पड़ेगी. फिर है यहां के हैंडीक्राफ्ट आदि.

अयोध्या में होने वाली वर्ल्ड कांफ्रेंस में पेश होगा प्रोजैक्ट

उन्होंने बताया ​कि 23 से 25 अक्टूबर 2018 तक अयोध्या में एक वर्ल्‍ड कांफ्रेंस होने जा रही है. इस कांफ्रेंस में दुनिया भर के करीब 50 विद्वान आ रहे हैं, जो अयोध्या और दुनिया की तमाम धार्मिक नगरियों पर शोध करते रहे हैं. तब तक हम अपना पूरा प्रोजेक्ट तैयार कर लेंगे. इस कांफ्रेंस में हम विद्वानों के समक्ष अपना प्रेजेंटेशन देंगे. इसके बाद सरकार और यूनेस्को में रिपोर्ट दाखिल कर देंगे. इस प्रोजेक्ट में सरकार से कोई सहायता नहीं ली जा रही है. बस अगले साल जो कांफ्रेंस होनी है, उसमें हम जरूर प्रदेश सरकार से सहायता लेंगे.

वर्ल्ड हेरिटेज सिटी के लिए जरूरी 10 मानक:

1. मानव रचनात्मकता का उत्कृष्ट प्रतिनिधित्व
2. वास्तुकला एवं स्मारकों में निहित मानव मूल्य
3. सांस्कृतिक परंपरा की प्राचीनता एवं निरंतरता
4. भू दृश्य एवं वास्तु की उत्कृष्टता
5. परंपरागत निवास स्थल
6. सांस्कृतिक उत्तरजीविता
7. जीवंत परंपरा एवं अमूर्त धरोहर
8. प्राकृतिक सुंदरता
9. पारिस्थितिकी
10. जैव विविधता

Similar Post You May Like

  • इयरफोन लगाकर चला रहा था स्कूल वैन, ट्रेन से टक्कर में गई 8 बच्चों की जान, 10 साल की सजा

    इयरफोन लगाकर चला रहा था स्कूल वैन, ट्रेन से टक्कर में गई 8 बच्चों की जान, 10 साल की सजा

    भदोही: उत्तर प्रदेश के भदोही में इयरफोन लगाकर स्कूल वैन चला रहे ड्राइवर राशिद खान की लापरवाही के चलते 2016 में 8 बच्चों की जान चली गई थी। इस मामले में अब अदालत का फैसला आ गया है। रिपोर्ट्स के मातबिक, भदोही की एक अदालत ने करीब साढ़े तीन साल पहले मानव रहित क्रॉसिंग पर ट्रेन और स्कूल वैन की टक्कर में 8 बच्चों की मौत के मामले में दोषी चालक को शनिवार को 10 साल की कैद की सजा सुनाई। इसके अलावा ड्राइ

  • प्रदर्शन के दौरान रामपुर में हुआ बवाल, फायरिंग में एक युवक की मौत

    प्रदर्शन के दौरान रामपुर में हुआ बवाल, फायरिंग में एक युवक की मौत

    लखनऊ: नागरिकता कानून के विरोध में आज उत्तर प्रदेश के रामपुर में बवाल हो गया. यहा रामपुर के हाथीखाना चौराहे के पास लोगों ने प्रद्ऱसन किया. प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी थी. प्रदर्शनकारियों को जब रोका गया तो भीड़ उग्र हो गई.पथरावाजी शुरू हो गई. जवाब में पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले दागे. यहां गुस्साई भीड़ ने कई बाइको में आग लगा दी. पूरे प्रकरण में अभी तक 6 लोग घायल हो चुके हैं,जबकि एक मौत हो

  • सीएम योगी ने कहा- उपद्रवियों की संपत्ति जब्त कर नुकसान की भरपाई की जाएगी

    सीएम योगी ने कहा- उपद्रवियों की संपत्ति जब्त कर नुकसान की भरपाई की जाएगी

    नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं. यूपी भी इससे अछूता नहीं है. राज्य के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुआ जिसमें करीब 11 लोगों की जान चली गई. प्रदर्शनकारियों ने जमकर तोड़ फोड़ की और पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाया. इस मामले को लेकर अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपना लिया है. योगी ने ट्वीट कर कहा, ''नागरिकता कानून के मुद्दे पर गुमराह करके लोगों

  • कानपुर में हिंसक भीड़ ने किया पथराव, पुलिस चौकी फूंकी

    कानपुर में हिंसक भीड़ ने किया पथराव, पुलिस चौकी फूंकी

    कानपुर: नागरिकता कानून के खिलाफ कानपुर में हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा. शहर के कई इलाकों में शनिवार को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी लगातार नारेबाजी कर रहे हैं. परेड यतीमखाना इलाके में हिंसा पर उतारू भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया और पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया. परेड यतीमखाना इलाके में एकत्र प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव कर दिया. भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठीच

  • उन्नाव रेप कांड के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर को उम्रकैद की सजा, 25 लाख जुर्माना भी

    उन्नाव रेप कांड के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर को उम्रकैद की सजा, 25 लाख जुर्माना भी

    उन्नाव रेप कांड मामले में दोषी और बीजेपी के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. अदालत ने उसपर 25 लाख का जुर्माना भी लगाया है. दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने कुलदीप सेंगर को यह सजा सुनाई है. सेंगर पर आरोप है कि उसने साल 2017 एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया था. क्या है पूरा मामला? नाबालिग लड़की ने कुलदीप सेंगर पर बलात्कार का आरोप लग

  • यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर के लिए हर परिवार से मांगीं ये 2 चीजें

    यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर के लिए हर परिवार से मांगीं ये 2 चीजें

    यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, राम मंदिर के लिए हर परिवार को 11 रुपये और एक पत्थर का योगदान देना चाहिए रांची: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को एक ऐसा बयान दिया, जो विवाद खड़ा कर सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, योगी ने कथित तौर पर कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के हर परिवार को 11 रुपये व एक पत्थर का योगदान देना चाहिए। यह पहली बार है कि मुख्यमंत्

  • फतेहपुर मामले में आया ट्विस्ट, पंचायती फरमान से नाखुश होकर पीड़िता ने लगाई आग

    फतेहपुर मामले में आया ट्विस्ट, पंचायती फरमान से नाखुश होकर पीड़िता ने लगाई आग

    बांदा: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के हुसैनगंज थाना क्षेत्र में शनिवार को 18 साल की लड़की को कथित रूप से दुष्कर्म बाद जिंदा जलाने के मामले में अब नया मोड़ आ गया है और अब तक की पुलिसिया जांच में प्रेम प्रसंग में आये पंचायती फरमान से क्षुब्ध होकर आग लगने की घटना सामने आई है। हालांकि, पुलिस ने पीड़िता के आरोपी चाचा को बलात्कार और हत्या की कोशिश के आरोप शनिवार की शाम ही गिरफ्तार कर लिया है।

  • उन्नाव पीड़िता की कब्र पर प्रशासन द्वारा चबूतरा बनाए जाने का परिजनों ने किया विरोध

    उन्नाव पीड़िता की कब्र पर प्रशासन द्वारा चबूतरा बनाए जाने का परिजनों ने किया विरोध

    उन्‍नाव: जिले के बिहार थाना क्षेत्र में जिंदा जलाई गई दुष्‍कर्म पीड़िता की कब्र पर प्रशासन द्वारा करवाए जा रहे चबूतरे के निर्माण का परिजनों ने विरोध किया और कब्र पर लगाई गई ईंटों को उखाड फेंका। प्रशासन ने सोमवार शाम कब्र पर निर्माण कार्य शुरू कराया था। बिहार थाना प्रभारी विकास पांडेय ने बताया कि परिजनों के विरोध के बाद निर्माण कार्य रूकवा दिया गया है, कब्र पर भी सुरक्षा की व्यवस

  • प्रशासन के मनाने के बाद किया गया पीड़िता का अंतिम संस्कार

    प्रशासन के मनाने के बाद किया गया पीड़िता का अंतिम संस्कार

    उन्नाव: प्रशासन की कोशिश के बाद अब से कुछ देर पहले उन्नाव रेप पीड़िता का अंतिम संस्कार किया गया. इससे पहले पीड़िता के परिवार इस बात की मांग कर रहे थे कि जब तक प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नहीं आते हैं तब तक पीड़िता का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा. हालांकि, लखनऊ मंडलायुक्त और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की ओर से आश्वासन मिलने के बाद पीड़ित परिवार वाले मान गए. इससे पहले प्रद

  • नहीं बचाई जा सकी उन्नाव रेप पीड़िता, दम तोड़ने से पहले पुलिस को बताया था कैसे आरोपियों ने उसे किया आग के हवाले

    नहीं बचाई जा सकी उन्नाव रेप पीड़िता, दम तोड़ने से पहले पुलिस को बताया था कैसे आरोपियों ने उसे किया आग के हवाले

    उन्नाव की रेप पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई है. डॉक्टरों के मुताबिक पीड़िता ने देर रात 11 बजकर 40 मिनट पर आख़िरी सांस ली. बलात्कार के आरोपियों ने उसे ज़िदा जला दिया था. जिसमें वो 90 फ़ीसदी जल गई थी. गुरुवार को उसे बेहतर इलाज के लिए लखनऊ से एयरलिफ़्ट कर दिल्ली के सफ़दरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सफ़दरजंग अस्पताल में पीड़िता के लिए अलग आईसीयू बनाया गया था. जहां डॉक्टरों की

ताज़ा खबर

Popular Lnks