हरियाणा और पंजाब से सामने आने लगीं पराली जलाने की घटनाएं, दिल्ली-एनसीआर की चिंता बढ़ी

By Tejnews.com 2017-09-29 पंजाब     

नई दिल्ली: दिनों-दिन बढ़ते प्रदुष्ण की रोकथाम के लिए देश और राज्य की सरकारे कई तरह के अभियान आम जन के बीच लाती रहतीं हैं, चाहें फिर वो दिल्ली सरकार की ऑड-ईवन योजना हो या कोई अन्य, लेकिन बात वहीं आकर थम जाती है जब देश का आम जन इसमें अपनी भागीदारी नहीं समझता और गैरजिम्मेदारी में लिप्त होकर जाने-अनजाने प्रदूषण बढ़ाने वाले कारकों को हवा में जलाने से बाज नहीं आता है.

हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों में खेतों में पराली यानी फसल के अवशेष जलाने की घटनाएं सामने आई हैं, जिससे दिल्ली-एनसीआर और इसके आसपास के राज्यों में चिंताएं बढ़ रही हैं. हरियाणा के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने पराली जलाने की दो रिपोर्टों की पुष्टि की है जबकि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ का वेब फायर मैपर पंजाब सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में बिखरे कुछ लाल बिंदू दिखा रहा है. हरियाणा ने 22 सितंबर को क्षेत्र की उपग्रह से निगरानी शुरू की और इसके बाद से अधिकारियों ने दो वाकये देखे जहां किसान पराली जला रहे थे . इसकी जानकारी पर्यावरण प्रदूषण रोकथाम एवं नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) को दी गई है .

हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा, ‘दोनों पुष्ट मामले पानीपत में सामने आए. फतेहाबाद से भी एक मामला सामने आया, लेकिन अधिकारियों ने अब तक इस बात की पुष्टि नहीं की है कि क्या यह पराली जलाने का मामला था.’ बहरहाल, उच्चतम न्यायालय के आदेश पर गठित ईपीसीए को उम्मीद है कि राज्य के अधिकारियों की ओर से की चलाए जा रहे निगरानी और जागरूकता अभियान का नतीजा सकारात्मक निकलेगा और पिछले कुछ सालों का वैसा अनुभव इस बार देखने को नहीं मिलेगा जिसमें पराली जलाने के कारण दिल्ली की हवा की गुणवत्ता बेहद खराब हो जाती थी.

यह भी पढ़ें : प्रदूषण से परेशान होकर छह साल के छात्र ने लगाई गुहार, एनजीटी ने प्रशासन से मांगा जवाब

इस बार दिल्ली सरकार पराली जलाने को लेकर खास तौर पर चिंतित है, क्योंकि शहर में अक्तूबर में अंडर-17 फीफा विश्व कप के कुछ मैचों का आयोजन होने जा रहा है और बड़े पैमाने पर ‘स्मॉग’ फैलने से देश की छवि खराब हो सकती है.पिछले साल इस मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया था. दिल्ली ने पराली जलाने से किसानों को रोकने में नाकाम रहने के लिए हरियाणा और पंजाब को जिम्मेदार ठहराया था. दिल्ली ने कहा था कि पराली जलाने के कारण शहर में वायु प्रदूषण गंभीर रूप ले चुका था. ईपीसीए के अध्यक्ष भूरे लाल के मुताबिक, जाड़े के मौसम की शुरूआत से पहले पंजाब और हरियाणा में करीब 3.5 करोड़ टन पराली जलाई जाती है, ताकि रबी फसलों की बुवाई के लिए खेतों को साफ किया जा सके .

हरियाणा प्रदूषण बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि वे हालात को लेकर स्थानीय प्रशासन और ईपीसीए को लगातार जानकारी दे रहे हैं . पंजाब एक अक्तूबर से निगरानी शुरू करेगा.पंजाब के एक अधिकारी ने बताया कि ‘नासा’ की ओर से दिखाए जा रहे लाल बिंदु हो सकता है कि सही तस्वीर नहीं पेश कर रहे हों, क्योंकि यह हर तरह की चीजें जलाने को दर्शाता है . पराली जलाने का काम 20 अक्तूबर के आसपास चरम पर होता है.

पराली जलाने से हवा तो प्रदूषित होती ही है, साथ में खेतों की उर्वरा शक्ति भी प्रभावित होती है.कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक, एक टन पराली जलाने से 5.5 किलोग्राम नाइट्रोजन, 2.3 किलोग्राम फॉस्फोरस, 25 किलोग्राम पोटाशियम और 1.2 किलोग्राम सल्फर का नुकसान होता है .

वायु प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए ईपीसीए की ओर से तैयार ‘समग्र कार्य योजना’ का मसौदा उच्चतम न्यायालय को सौंप दिया गया है . कार्य योजना में पंजाब एवं हरियाणा में पराली जलाने पर पाबंदी को सख्ती से लागू करने की वकालत की गई है . इसमें किसानों को ऐसे उपकरणों की खरीद के लिए रियायत देने को भी कहा गया है जिससे पराली जलाने की जरूरत ही नहीं आती हो.

Similar Post You May Like

  • सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

    सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत

    पंजाब: पंजाब में कोटकपूरा के पास गुरुवार सुबह करीब पांच बजे हुए सड़क हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। खबर के अनुसार मुक्तसर जिला के गांव आशा बुट्टर का रहने वाला एक परिवार घर लौट रहा था, तभी कोटकपूरा के एक गांव के पास खड़े ट्रक से उनके कार की जबरदस्त टक्कर हो गई। इस हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई है जबकि 2 लड़के गंभीर रूप से घायल हो गए। बताया जा रहा है कार के ड्

  • पुलिस ने बब्बर खालसा के 7 आतंकियों को गिरफ्तार किया

    पुलिस ने बब्बर खालसा के 7 आतंकियों को गिरफ्तार किया

    चंडीगढ़: पंजाब पुलिस ने शनिवार को प्रतिबंधित आतंकी संगठन बब्बर खालसा के 7 सदस्यों को लुधियाना से गिरफ्तार किया। यह बड़ी सफलता पंजाब पुलिस और खुफिया ब्यूरो की संयुक्त टीम ने हासिल की है। लुधियाना के पुलिस कमिश्नर ने बताया कि आतंकियों के निशाने पर वे लोग थे जो खालिस्तान के खिलाफ लिखते हैं। पुलिस ने बताया कि ये लोग इंग्लैंड में बसे आतंकी सुरेन्द्र सिंह बब्बर से फेसबुक के जरिए जुड़े

  • पंजाब में भीषण सड़क दुर्घटना, 1 बच्चे सहित पांच की मौत

    पंजाब में भीषण सड़क दुर्घटना, 1 बच्चे सहित पांच की मौत

    चंडीगढ़: पंजाब के फरीदकोट जिले में तेज गति से आ रही कार ने एक ट्रक में टक्कर मार दी, जिसमें एक बच्चे सहित पांच लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी. कोटकापुरा-बगहापुराना रोड पर हुई दुर्घटना में दो बच्चे घायल हो गए. यहां से 225 किलोमीटर दूर फरीदकोट में घायलों को गुरु गोविंद सिंह मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है.

  • खेती के ट्यूबवेलों में मीटर नहीं लगेंगे, जारी रहेगी बिजली पर सब्सिडी: अमरिंदर सिंह

    खेती के ट्यूबवेलों में मीटर नहीं लगेंगे, जारी रहेगी बिजली पर सब्सिडी: अमरिंदर सिंह

    चंडीगढ़: पंजाब में किसानों से जुड़े एक मुददे पर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अपनी बात रखी है. साथ ही उन्होंने अकाली दल और भारतीय जनता पार्टी पर लोगों को भ्रमित करने का आरोप भी लगाया है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने स्पष्ट किया कि खेती के ट्यूबवेलों में मीटर लगाने की उनकी सरकार की कोई योजना नहीं है. अमरिंदर ने शिरोमणि अकाली दल द्वारा इस मुद्दे पर फैलाए जा रहे झूठे प्रोपोगेन्

  • कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट के विस्तार से पहले खेमेबाजी, नवजोत सिंह सिद्धू लगा रहे हैं जोर

    कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट के विस्तार से पहले खेमेबाजी, नवजोत सिंह सिद्धू लगा रहे हैं जोर

    चंडीगढ़: लंबे राजनीतिक अंतराल पर सत्ता में लौटने के बाद कांग्रेस के कई वरिष्ठ विधायकों के मंत्रिमंडल में स्थान पाने का इंतजार अब लंबा हो चुका है. गुरदासपुर सीट के लिए लोकसभा उपचुनाव अगले महीने त्योहार के मौसम बाद होने हैं. कांग्रेस के आंतरिक सूत्रों का कहना है कि अमरिंदर सिंह सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में एक-दो महीने की देरी हो सकती है. कांग्रेस ने अमरिंदर सिंह की अगुवाई में मार

  • पंजाब के फगवाड़ा में ट्रेन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत

    पंजाब के फगवाड़ा में ट्रेन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत

    फगवाड़ा: फगवाड़ा के चक हकीम गांव के निकट ट्रेन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई है. पुलिस ने शनिवार को बताया कि शशिकांत (40) अमृतसर-नई दिल्ली शान-ए-पंजाब एक्सप्रेस की चपेट में आ गया. पुलिस ने बताया कि हिमाचल प्रदेश निवासी शशिकांत इस बात से अनजान रेल पटरी पार कर रहे थे कि ट्रेन उनकी ओर आ रही है. उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव उनके परिवार के सदस्यों को सौंप दिया गया.

  • पंजाब का अरबपति इंजीनियर, 12 सौ करोड़ रुपये की संपत्ति का मालिक

    पंजाब का अरबपति इंजीनियर, 12 सौ करोड़ रुपये की संपत्ति का मालिक

    पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने एक इंजीनियर को गिरफ्तार किया है इसकी तन्ख्वाह तो पचास से 60 हजार रूपए महीना है लेकिन यह करीब 12 सौ करोड़ रूपए की संपत्ति का मालिक है। आम आदमी जिंदगी भर में ईमानदारी से एक करोड़ की संपत्ति नहीं जुटा पाता लेकिन यह इंजीनियर पन्द्रह साल में 12 सौ करोड़ का मलिक हो गया। इस इंजीनियर का नाम है सुरिंदर पाल सिंह। सुरिंदर पंजाब के ग्रेटर मोहाली एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी मे

ताज़ा खबर

Popular Lnks