रबी सीजन में किसानों को कम पानी में पकने वाली फसलों हेतु करें जागृत

By Tejnews.com 2017-09-19 रीवा रीजन     

प्रधानमंत्री फसल बीमा का ग्रामीण क्षेत्र में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए:- प्रभारी मंत्री

श्री राजेन्द्र शुक्ल मंत्री म.प्र. शासन खनिज साधान,वाणिज्य उद्योग, और रोजगार, प्रवासी भारतीय विभाग एवं सिंगरौली जिलें के प्रभारी श्री राजेन्द्र शुक्ल की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में जिला जल उपभोक्ता समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में विधायक सिंगरौली श्री रामलल्लू वैष्य, विधायक देवसर श्री राजेन्द्र मेश्राम,नगर निगम की महापौर श्रीमती प्रेमवती खैरवार भाजपा जिला अध्यक्ष श्री शीर्ष कान्त देव सिंह नगर निगम के अध्यक्ष श्री चन्द्रप्रताप विश्वकर्मा, प्रधिकरण के अध्यक्ष श्री बिरेन्द्र मिश्रा, प्रधिकरण के उपाध्यक्ष श्री दिलीप साह,जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री डॉ. रावेन्द्र सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं प्रभारी कलेक्टर श्री प्रियंक मिश्रा, पुलिस अधिक्षक श्री रूडोल्फ अल्वारेस, सहित समिति के सदस्य गण उपस्थित रहें।
बैठक को संबोधित करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि सिंगरौली जिलें में अल्प वर्षा की स्थित को देखते हुए किसानों की खरीफ सीजन की फसल को बचाने के लिएं कृषि विभाग के अधिकारी और कृषि वैज्ञानिक किसानों से सम्पर्क करे तथा उन्हें फसल को बचाने के तरीके बताएं तथा आगमी रबी सिजन में किसानों को कम पानी में पकने वाली फसलें जैसे चना,मटर, अलसी, मसूर, रमतिल, गेहूँ, जैसी फसलें लगाने के लिए प्रेरित और प्रत्साहित करें।माननीय प्रभारी मंत्री ने कहा कि अल्प वर्षा के कारण किसानों के समक्ष खरीफ की फसल को बचाने की एक बड़ी चुनौती है।जिसके लिएं यह आवष्यक है कि प्रत्येक पंचायतों में किसान सम्मेलन और किसाना संगोष्ठी आयोजित कर कृषि वैज्ञानिक कृषि विभाग के अधिकारी और विभाग का मैदानी अमला गांव में जाकर किसानों को जल प्रबंधन के तरीके समझाएं तथा किसानों को पानी की एक एक बूंद का महत्व भी समझाएं।माननीय प्रभारी मंत्री ने इसके पूर्व जिलें में कुल बाध एवं बाधों में पानी की स्थिति तथा नहरों, कैनाल के सिस्टम की वर्तमान स्थित की जानकारी लेने के पष्चात अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिले के जल आसयो में उपलब्ध पानी से समुचित पानी कृषकों को मुहैया कराया जाय तथा नहरो का सुधार नालियों की समुचित साफ सफाई की जाय ताकि पानी का एक एक बूद बर्बाद नहो यह सुनिश्चित किया जाय। तथा जिले के सभी नदी नालों में तत्काल कड़ी सटर लगाए एवं उपलब्ध पानी का उपयोग सिचाई के लिए करना संनिश्चित किया जाय। बैठक के दौरान माननीय प्रभारी मंत्री ने रबी सिजन के लिए खाद बीज, की उपलब्धता के संबंध में अधिकारियों से चर्चा की चर्चा के दौरान माननीय प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों को खाद, बीज की कमी नही होनी चाहिए साथ ही खाद, बीज गुणवत्ता पूर्ण होना चाहिए एवं पर्याप्त मात्रा में भण्डारण हो किसान भटके नही इसके लिए ब्लाक स्तर पर भी खाद बीज उपलब्ध कराया जाय। प्रभारी मंत्री ने कहा कि कम वर्ष के बाबजूद भी किसान समुचित फसल ले सके इसके लिए कृषि विभाग कार्ययोजना तैयार करे तथा कार्ययोजना किसानों तक पहुचें।
बिगड़े हुए ट्रान्सफॉर्मर की जानकारी विधानसभा वार देवें – माननीय प्रभारी मंत्री के द्वारा किसानों को पार्याप्त विद्युत मुहैया कराने का निर्देश देते हुएं कहा कि विगड़े हुए ट्रान्सफॉर्मर की जानकारी विधान सभा वार दिया जाय तथा यह उल्लेख किया जाय कि कितनी कितनी राशि शेष है इसकी जानकारी संबंधित क्षेत्र के विधायकों को भी देवें तथा एस.एम.एस के माध्यम से भी जानकारी दी जावें ताकि जल्द से जल्द ट्रान्सफॉर्मर की निर्धारित राशि जमा कराया जाकर किसानों को लाईट दिया जा सके मेरे जानकारी में यह भी आया है कि न्यूनतम राशि बकाया के बाबजूद भी विगड़े हुए ट्रान्सफॉर्मर बदले नही जारहे हैं इसके लिए संबंधित विभाग के अधिकारी परीक्षण करे यदि ऐसी स्थिति है तो तत्काल ट्रान्सफॉर्मर बदलें एवं लाईट चालू करें। जो भी न्यूनतम राशि है उसके लिए वहा संगोष्ठी आयोजित करे तथा संबंधित क्षेत्र के विधायक जन प्रतिनिधियों को भी बुलावे एवं बकाया राशि जमा करने हेतु किसानों को या उपभोक्ताओं को प्रेरित किया जा सके।
फसल बीमा अधिक से अधिक कराए पंजीयन – बैठक के दौरान माननीय प्रभारी मंत्री जी के द्वारा जिले में कुल किसानों संख्या तथा बीमा कराने वाले किसानों की संख्या की जानकारी लेने के बाद कम पंजीयन होने पर नराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिये कि किसानों का अभियान चलाकर अधिक से अधिक फसल बीमा का पंजीयन कराया जाय ताकि उन्हें अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके।साथ ही किसान सम्मेलन भी किया जाय जिसमें जन प्रतिनिधियों पंचायत पदाधिकारियों एवं ग्रामीण जानो को प्रथमिकता के साथ आमंत्रित करने के भी निर्देश दिए गएं।
भावान्तर योजना में कराएं पंजीयन – माननीय प्रभारी मंत्री जी के द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी की महात्वाकक्षीं योजनाओं में से भावान्तर योजना की जानकारी देते हुएं कहा कि इस योजना में भी किसानों का पंजीयन करावे तथा किसानों को यह प्रेरित करे कि अपनी फसल जैसे, तिल, मूगफली, रामतिल, मूग, उर्दा तुअर, मक्का, की बिक्री किसानों द्वारा मंडीयों में जो किया जाएंगा विक्री के समय बजार मूल्य एवं समर्थन मूल्य में जो अंतर होगा वह पंजीकृत किसानों के खातों में शासन द्वारा दिया जाएंगा।किसानों को इस योजना में बहुत ही अच्छा लाभ प्राप्त होगा।
प्रभारी कलेक्टर श्री प्रियंक मिश्रा नें माननीय मंत्री जी को अवगत कराते हुएं कहा कि जिलें में कुल 25 बाध, स्थित है तथा क्षेत्र की नहरों की स्थित के बारे में जानकारी प्राप्त कर ली गई है तथा पानी को बचानें हेतु बोरी बंधन श्रमदान के तहत किये जारहे है जिला प्रषासन पूरी तरह से मुस्तैद है कि किसानों को किसी भी प्रकार का संकट ना आने पाए उसके लिए कार्य योजनाएं तैयार की जा रही है ताकि किसान के खरीफ एवं रबी फसल का अधिक से अधिक लाभ दिलाया जा सके आगे उन्होनें स्वच्छ भारत मिशन के तहत 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक चलाएं जारहे स्वच्छता अभियान एवं खुले में शौच से मुक्त करने हेतु शौचालयों के निर्माण की जानकारी से माननीय प्रभारी मंत्री जी को अवगत कराया गया। बैठक के दौरान अन्त्योदय समिति के अध्यक्ष श्री लालजी साहू, मेयर इंन काउसिल के सदस्य श्री देवेश पाण्डेय, पार्षद डी.एन शुक्ला, जनपद पंचायत के सदस्य एवं कृषि समिति के अध्यक्ष श्री कमलेश शर्मा, एवं वरिष्ठ कार्यकर्ता देवेन्द्र नाथ चतुर्वेदी राजेन्द्र पाण्डेय,षुरेन्द्र पाण्डेय संयज कुमार पाठक, ब्रिजेस चतुर्वेदी अरूण देव पाण्डेय, विक्रम सिंह, संदीप शुक्ला, सजय दुबे, पुनित शुक्ला सहित सम्मानित जन प्रतिनिधि गण एवं जिला के अधिकारी उपस्थित रहे

Similar Post You May Like

  • विंध्य क्षेत्र में मौजूद है शैलचित्रों का अदभुत संसार:

    विंध्य क्षेत्र में मौजूद है शैलचित्रों का अदभुत संसार:

    विंध्य क्षेत्र का भारत के इतिहास मे एक विशिष्टि स्थान है। विंध्य को मानव के अदिृतीय एवं प्रथम कीडास्थली होने का गौरव प्राप्त है। मानव के विकास की सभी अवधारणाएं यहां क्रमबद्ध रूप में उपस्थित है। यही वजह है कि विंध्य की भूमि स्वयं मे मानव शैल चित्र का अपना एक संसार सा समेटे हुये है। विंध्य की प्राकृतिक गुफाओं एवं इन गुफाओं मे उपस्थित शैलचित्रों ने संस्कृती के विकास में अपना महत्वप

  • भरहुत चित्रकला, मूर्तिकला संग्रहालय में है प्रदर्शित हो रही है आर्य, बौद्ध आदिवासी कला संस्कृति:

    भरहुत चित्रकला, मूर्तिकला संग्रहालय में है प्रदर्शित हो रही है आर्य, बौद्ध आदिवासी कला संस्कृति:

    अगर आपको सैकडों वर्ष पुरानी कला संकृति के बारे में जिसे आपने सुना है उस कला संस्कृति से रूबरू होना चाहते है तो एक बार वेद वाणी वितान, प्राच्य विद्या शोध संस्थान सतना का भ्रमण जरूर करियेगा। यहां सैकडों वर्षो की कला संस्कृति को सजो का रखा गया है। धर्म दर्शन के प्रख्यात विद्वान, इतिहासविद, राष्ट्रपति सम्मानित डाॅ सुद्युम्न आचार्य के अथक प्रयासों से यह संभव हो सका है। इसमें विन्ध्य इ

  • देश का प्रथम हिन्दी नाटक ‘आनन्द रघुनन्दन’’ की शानदार नाट्य प्रस्तुती सम्पन्न

    देश का प्रथम हिन्दी नाटक ‘आनन्द रघुनन्दन’’ की शानदार नाट्य प्रस्तुती सम्पन्न

    रीवा में बघेलखण्ड सांस्कृतिक महोत्सव समिति रीवा द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ अमृत महोत्सव के परिपेक्ष्य में साहित्यिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों की अनवरत जारी श्रृंखला के अन्तर्गत बघेल राजवंश के यशस्वी महाराजा विश्वनाथ सिंह जूदेव द्वारा रचित देश का प्रथम हिन्दी नाटक ‘‘आनन्द रघुनन्दन’’ जो योगेश त्रिपाठी द्वारा बघेली में रूपांतरित किया गया है जिसका भव्य मंचन आज 27 सितम्बर 202

  • राम की नगरी में बीजेपी की उड़ी नींद,'आधी सरकार' ने चित्रकूट में डाला डेरा

    राम की नगरी में बीजेपी की उड़ी नींद,'आधी सरकार' ने चित्रकूट में डाला डेरा

    मध्य प्रदेश में चित्रकूट विधानसभा सीट के हो रहे उपचुनाव के लिए काउंटडाऊन शुरू हो गया है. कांग्रेस के कब्जे वाली सीट को हथियाने के लिए आतुर सत्ताधारी भाजपा की उपचुनाव प्रचार को लेकर नींद उड़ गयी है. वजह है कांगेस की मैदानी जमावट और साइलेंट प्रचार की शैली. आलम ये है कि प्रदेश की आधी सरकार ने चित्रकूट में डेरा डाल दिया है. संगठन के दिग्गज नेता पहले से ही डटे हुए हैं. ‌सतना जिले के चित्

  • 11 सालों से अब तक नहीं हो पाया शहीद के गांव का विकास

    11 सालों से अब तक नहीं हो पाया शहीद के गांव का विकास

    मध्य प्रदेश के सतना जिले के चित्रकूट उप चुनाव का रण आखिरी दौर में पहुंच चुका है. सत्तापक्ष और विपक्ष मतदाताओं को रिझाने के लिए जोर आजमाइश कर रहे हैं. सत्तादल विकास को मुद्दा बनाकर जीत का दावा कर रहा है तो विपक्ष विकास के दावे को कोरी कल्पना बता रहा है. सतना जिले के एक ऐसे गांव की कहानी बता रहा है जो विकास के नाम पर 2006 से ही सुर्खियों में है. यह गांव इस बार भाजपा प्रत्याशी शंकर दयाल त्रि

  • चित्रकूट में डेरा डालेंगे भाजपा के किसान नेता, मोर्चा की बैठक में हुई 'भावांतर' पर चर्चा

    चित्रकूट में डेरा डालेंगे भाजपा के किसान नेता, मोर्चा की बैठक में हुई 'भावांतर' पर चर्चा

    भावांतर योजना को लेकर किसानों और विरोधियों के निशाने पर आ रही शिवराज सरकार को चित्रकूट चुनाव में भावांतर के भंवर से बाहर निकालने के लिए किसान नेता चित्रकूट में डेरा डालेंगे. चित्रकूट उपचुनाव के लिए भाजपा किसान मोर्चा के नेता 3 नवंबर को चित्रकूट पहुंचेंगे और प्रचार के अंतिम दिन तक वहीं रहेंगे. भावांतर भुगतान योजना के 'भंवर' से निकलने के लिए सोमवार को शिवराज कैबिनेट की बैठक में चर्

  • एनसीएल में कोल खदान के विस्तार में हुए भ्रष्टाचार मामले में पांच अधिकारी निलंबित

    एनसीएल में कोल खदान के विस्तार में हुए भ्रष्टाचार मामले में पांच अधिकारी निलंबित

    मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में कोल इंडिया की कंपनी नार्दन कोलफिल्ड लिमिटेड (एनसीएल) में कोयला खदान के विस्तार में भ्रष्टाचार का मामला सामने आया था. जिसकी शुरुआती जांच के बाद कोल कंपनी ने दोषी पांचों अधिकारियों को निलंबित कर दिया है. इसके अलावा कंपनी बांटी गई रकम की वसूली करने की भी तैयारी कर रही है. सिंगरौली जिले में कोल इंडिया की मिनी रत्न कंपनी नार्दन कोलफिल्ड लिमिटेड में एक ब

  • सुबह कांग्रेस को भूला शख्स, शाम को पार्टी में लौटा

    सुबह कांग्रेस को भूला शख्स, शाम को पार्टी में लौटा

    मध्य प्रदेश में चित्रकूट के उपचुनाव में जबर्दस्त सियासी ड्रामा चल रहा है. इस सीट पर कांग्रेस के पूर्व विधायक प्रेम सिंह के निधन के बाद चुनाव हो रहा है. मंगलवार सुबह उनके भतीजे मंगल सिंह बीजेपी में शामिल हुए. उनके घर पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह, पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह गहरवार पहुंचे और माला पहनाकर उनके पार्टी में शामिल होने का ऐलान कर दिया. लेकिन शाम होते-होते नेता प्र

  • चित्रकूट में भाजपा-कांग्रेस ने 'ब्राह्मण' पर दांव लगाया

    चित्रकूट में भाजपा-कांग्रेस ने 'ब्राह्मण' पर दांव लगाया

    मध्य प्रदेश के सतना जिले के चित्रकूट विधानसभा क्षेत्र में 9 नवंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए सत्ताधारी भाजपा और कांग्रेस ने रविवार को अपने-अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया. दोनों दलों ने ब्राह्मण जाति के व्यक्ति पर दांव लगाया है. भाजपा ने चित्रकूट विधानसभा क्षेत्र के लिए शंकर दयाल त्रिपाठी को उम्मीदवार बनाया है, वहीं कांग्रेस ने नीलांशु चतुर्वेदी को मैदान में उतारने क

  • शरदोत्सव की समापन संध्या में अभिजीत भट्टाचार्य के गीतो की रही धूम

    शरदोत्सव की समापन संध्या में अभिजीत भट्टाचार्य के गीतो की रही धूम

    सतना: संस्कृति संचालनालय म.प्र. द्वारा जिला प्रशासन सतना दीनदयाल शोध संस्थान के सहयोग से चित्रकूट में पारम्परिक नृत्य एवं गायकी पर केन्द्रित तीन दिवसीय शरदोत्सव की समापन संध्या में मुम्बई के प्रसिद्ध पार्श्व गायक अभिजीत भट्टाचार्य के गीतो की धूम रही। शरदोत्सव की समापन संध्या का शुभारंभ भारत सरकार के संसदीय कार्य एवं सांख्यिकीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल म.प्र. शासन की महिला

ताज़ा खबर

Popular Lnks