आबकारी घोटालाः ठेकेदारों से वसूले गए 23 करोड़, अब कुर्की की तैयारी

By Tejnews.com Thu, Sep 7th 2017 मध्य प्रदेश     

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में शराब ठेकेदारों द्वारा बैंकों में भरे जाने वाले चालानों में हेर-फेर के जरिये सरकारी खजाने को करीब 41.40 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने के घोटाले में संबंधित ठेकेदारों से लगभग 23 करोड़ रुपये की राशि वसूल ली गई है, जबकि शेष रकम की वसूली के लिए आरोपियों की संपत्ति कुर्क करने की तैयारी की जा रही है.

इस घोटाले के खुलासे के बाद प्रदेश सरकार को जिले के आबकारी अमले में बड़ा फेरबदल करना पड़ा है. प्रदेश के वित्त और वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत मलैया ने इंदौर में संवाददाताओं को बताया,'हमने इस घोटाले के 23 करोड़ रुपये ठेकेदारों से वसूल लिए है. शेष रकम की वसूली के लिए आरोपी ठेकेदारों की संपत्ति की कुर्की और नीलामी की प्रकिया शुरू की जाएगी.'

मलैया ने बताया,'घोटाले के मामले में कर्तव्य की सीधी अनदेखी के कारण इंदौर जिले के आबकारी विभाग में पदस्थ सहायक आयुक्त समेत छह कारिंदों को निलंबित कर दिया गया है. इसके साथ ही, उपायुक्त और 19 अन्य कर्मचारी-अधिकारियों को स्थानांतरित कर दिया गया है जो तीन साल से ज्यादा समय से जिले में पदस्थ थे.'

मंत्री ने कहा कि वह वित्त विभाग के अधिकारियों को इंदौर आकर घोटाले के बारे में पूरी जानकारी लेने और उचित कदम उठाने का निर्देश पहले ही दे चुके हैं.

शराब ठेकेदारों द्वारा जालसाजी के जरिए प्रदेश सरकार को करीब 41.40 करोड़ रुपए के राजस्व का चूना लगाने के घोटाले का खुलासा हाल ही में हुआ है. इसके बाद प्रशासन ने 10 शराब ठेकेदारों और उनके छह साथियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज कराए हैं. पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है.

पुलिस के एक जांचकर्ता अधिकारी ने बताया कि शराब ठेकेदारों को ठेका नीलामी की राशि की किश्तों के भुगतान और मदिरा का कोटा खरीदने के लिये आबकारी विभाग के खाते में निश्चित अवधि में रकम जमा करनी होती है. यह रकम बैंक चालानों के जरिये जमा कराई जाती है.

उन्होंने बताया कि पुलिस को जांच में पता चला कि आरोपी ठेकेदारों ने पिछले दो वर्ष के दौरान बैंक में तय राशि से कम रकम के चालान जमा कराई. लेकिन इस चालान की प्रति में पेन से हेर-फेर कर आबकारी विभाग को गलत सूचना दी कि उन्होंने बैंकों में तय राशि के चालान जमा कराए हैं. सिलसिलेवार फर्जीवाड़े से सरकारी खजाने को 41.40 करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचा.

आरोप है कि आबकारी विभाग के कारिंदों ने यह जांचना मुनासिब नहीं समझाा कि शराब ठेकेदारों की ओर से सरकारी खजाने में तय रकम जमा कराई जा रही है या नहीं. पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है.

Similar Post You May Like

  • भोपाल गैंगरेप मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी में गड़बड़ी, एक को छोड़ा

    भोपाल गैंगरेप मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी में गड़बड़ी, एक को छोड़ा

    भोपाल: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 19 साल की छात्रा से कथित तौर पर गैंगरेप के मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी में गंभीर गड़बड़ी सामने आई है. पुलिस ने पहले चारों आरोपियों को पकड़ने का दावा किया था, खुद जीआरपी एसपी ने इस बात की पुष्टि की थी लेकिन शनिवार की शाम को आईजी लॉ एंड ऑर्डर मिलिंद देउस्कर ने कहा पहले जिन चार लोगों को हिरासत में लिया गया था उनसे पूछताछ के बाद तीन लोगों को गिरफ्

  • गैंगरेप पर भोपाल में बवाल, जीआरपी थाने पर कांग्रेस का भारी हंगामा

    गैंगरेप पर भोपाल में बवाल, जीआरपी थाने पर कांग्रेस का भारी हंगामा

    भोपाल में हबीबगंज रेलवे ट्रैक के पास गैंगरेप मामले को लेकर कांग्रेस ने प्रदर्शन किया. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हबीबगंज जीआरपी थाने का घेराव कर जमकर हंगामा किया, इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता टीआई को बर्खास्त करने की मांग को लेकर पुलिस थाने के बाहर धरने पर बैठ गए. पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच धक्का मुक्की हुई कांग्रेस ने कहा भोपाल अपराधियों की राजधानी बन गया है महिलाएं

  • रेलवे स्टेशन के पास तीन घंटे तक गैंगरेप, पढ़ें- रुह कंपाने वाली FIR के अंश

    रेलवे स्टेशन के पास तीन घंटे तक गैंगरेप, पढ़ें- रुह कंपाने वाली FIR के अंश

    मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सिविल सर्विस परीक्षाओं की तैयारी कर रही छात्रा से गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस मामले में राजधानी पुलिस की बड़ी लापरवाही का भी खुलासा हुआ है. एफआईआर जिसमें भोपाल पुलिस की लापरवाही का जिक्र किया गया है. भोपाल की थाना पुलिस पीड़ित छात्रा और उसके परिजन को एफआईआर दर्ज करने के लिए दिनभर घूमाती रही. पुलिस के अधिकारी और कर्मचारियों ने बार-ब

  • छात्रा ने कैंटीन में किया नाश्ता, फिर स्टूडेंट ने बताई ऐसी बात कि हो गई बीमार

    छात्रा ने कैंटीन में किया नाश्ता, फिर स्टूडेंट ने बताई ऐसी बात कि हो गई बीमार

    मध्य प्रदेश के ग्वालियर में पैरामिलिट्री की ट्रेनिंग में आई एक छात्र की अचानक तबियत बिगड़ने से हड़कंप मच गया. दरअसल, पद्मा विद्यालय में पचास छात्राएं पैरामिलिट्री ट्रेनिंग के लिए पहुंची हैं. शुक्रवार को भिंड निवासी रीता शर्मा नाम की छात्रा की अचानक तबियत बिगड़ गई, जिसे जयारोग्य अस्पताल में भर्ती कराया गया. साथी छात्राओं ने बताया कि रीता ने कैंटीन से समोसा खाया उसके बाद वाटर कू

  • भोपाल गैंगरेपः तीन थाना प्रभारी और दो SI सस्पेंड, सीएसपी को भी हटाया

    भोपाल गैंगरेपः तीन थाना प्रभारी और दो SI सस्पेंड, सीएसपी को भी हटाया

    मध्य प्रदेश के भोपाल में यूपीएससी की तैयारी कर रही छात्रा के साथ गैंगरेप के मामले में लापरवाही बरतने के मामले में पुलिस अफसरों पर गाज गिरी है. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद एक सीएसपी को पीएचक्यू में हटा दिया गया है, जबकि तीन थाना प्रभारियों और दो सब इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है. दरअसल, राजधानी को दहला देने वाली घटना में पुलिस की लापरवाही के चलते शिवराज सरकार की काफी किरकिर

  • शिवराज के खिलाफ कब घोषित होगा कांग्रेस का चेहरा, कमलनाथ ने किया खुलासा

    शिवराज के खिलाफ कब घोषित होगा कांग्रेस का चेहरा, कमलनाथ ने किया खुलासा

    वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ कांग्रेस की ओर इस पद के दावेदार की घोषणा सही समय पर की जाएगी. इस बयान से संकेत मिलता है कि सूबे की सत्ता से पार्टी का डेढ़ दशक पुराना वनवास खत्म करने के लिये कांग्रेस किसी चेहरे को मुख्यमंत्री पद के दावेदार के रूप में उतारने के फॉर्मूले पर आगे बढ़ रह

  • भाजपा के मानहानि के दावे पर बोले दिग्विजय, 'एक केस और सही'

    भाजपा के मानहानि के दावे पर बोले दिग्विजय, 'एक केस और सही'

    व्यापम घोटाले के सीबीआई द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को क्लीन चिट मिलने की पृष्ठभूमि में भाजपा की ओर से मानहानि का दावा करने की बात पर कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह का कहना है कि उनके खिलाफ पहले से ही मानहानि के कई मामले दर्ज हैं, ऐसे में एक और सही. उल्लेखनीय है कि सीबीआई ने 31 अक्तूबर को भोपाल की विशेष सीबीआई अदालत में अपना आरोप पत्र दाखिल किया. जिसमें उस आरोप को खारिज कर द

  • मध्यप्रदेश में भावांतर के भंवर में किसान! बीजेपी के समर्थक किसान ने कहा- सरकार दे रही 'लॉलीपॉप'

    मध्यप्रदेश में भावांतर के भंवर में किसान! बीजेपी के समर्थक किसान ने कहा- सरकार दे रही 'लॉलीपॉप'

    भोपाल: मध्यप्रदेश में मंदसौर के आंदोलन के वक्त अन्नदाता का गुस्सा उबाल पर दिखा. सरकार ने इसे कम करने की कोशिश के तहत योजनाओं के ताबड़तोड़ ऐलान किए लेकिन किसान इससे और नाराज़ है. किसानों को सही कीमत के दावे के साथ सरकार ने भावांतर भुगतान योजना शुरू की लेकिन इसके पेंच से किसान और गुस्से में है. सरकार ने ये भी ऐलान किया कि व्यापारी उसे 50,000 नकद दे जिससे व्यापारी की पेशानी पर परेशानी के बल प

  • छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवती के दो परिजन की गोली मारकर की हत्या, एक घायल

    छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवती के दो परिजन की गोली मारकर की हत्या, एक घायल

    भिण्ड: जिले के रौन पुलिस थाना क्षेत्र के मानगढ़ गांव में छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवती के दो परिजन की कुछ युवकों ने गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद ने आज बताया कि घटना कल शाम की है जब पीडि़त परिवार की युवती गांव के हैंडपम्प से पानी भरने गयी थी, तब वहां गांव के उच्च जाति के कुछ युवकों ने कथित तौर पर उ

  • MP से सामने आया श्मशान घोटाला, करोड़ों रुपये हुए रिलीज़, पर कागजों में ही बने 'मुक्तिधाम'

    MP से सामने आया श्मशान घोटाला, करोड़ों रुपये हुए रिलीज़, पर कागजों में ही बने 'मुक्तिधाम'

    गुना: मध्य प्रदेश से मुक्तिधाम यानी श्मशान घोटाला सामने आया है. अकेले गुना ज़िले में करोड़ों की राशि निकाल ली गई लेकिन श्मशान या तो बने नहीं और अगर बने भी तो आधे-अधूरे. प्रशासन ने जब संबंधित सरपंचों, अधिकारियों के खिलाफ FIR करने की धमकी दी तो रातों-रात शमशान बन गए. गुना में सरपंचों, पंचायत सचिव और अधिकारियों ने 15 करोड़ रुपये के घोटाले के सुराग मिल रहे हैं. गुना ज़िले के 1100 गांव में 700 मुक्तिधाम

ताज़ा खबर

Popular Lnks