अच्छे दाम्पत्य सुख के लिए पति पत्नी को ऐसे सोना चाहिए

By Tejnews.com Wed, Sep 6th 2017 लाइफस्टाइल

अक्सर पति-पत्नी सोते समय बेपरवाह होकर सोते हैं। वह यह भी नहीं सोचते कि उनका गलत तरीके से सोना वैवाहिक जीवन में टकराव और तालमेल में कमी की वजह हो सकता है। वास्तु विज्ञान कहता है, सोते समय अगर पति-पत्नी कुछ बातों का ध्यान रखें तो वैवाहिक जीवन की कई समस्याओं से बच सकते हैं। यहां तक कि संतान सुख में आने वाली बाधाओं को भी इससे कम किया जा सकता है।

वास्तुविज्ञान में कहा गया है कि दाम्पत्य जीवन में आपसी प्रेम और तालमेल के लिए पत्नी को पति के बायीं ओर सोना चाहिए। इसके पीछे एक कारण यह है कि पत्नी को पति का बायां अंग माना गया है। जबकि पति को पत्नी का दायां हिस्सा माना गया है। इससे पारिवारिक जीवन में संतुलन बना रहता है।

नवविवाहित पति-पत्नी को उत्तर पूर्व दिशा के कमरे में या कमरे में उत्तर पूर्व की ओर बेड नहीं लगना चाहिए। वास्तु विज्ञान के अनुसार उत्तर पूर्व दिशा का स्वामी गुरु होता है जो यौन संबंध में उत्साह की कमी लाता है जिसकी वजह से दाम्पत्य जीवन निरस होने लगता है और आपस में तालमेल की कमी होने लगती है।

पति-पत्नी में यौन इच्छा की कमी होने के कारण आपसी तालमेल की कमी हो रही हो और अक्सर वाद-विवाद हो रहा हो तो उन्हें दक्षिण पूर्व दिशा के कमरे में सोना चाहिए या अपने बेड को इस दिशा में लगाना चाहिए। यह दिशा शुक्र ग्रह से प्रभावित होता है और इस दिशा में अग्नि वास माना जाता है इसलिए इस दिशा में सोने से दाम्पत्य जीवन के प्रति उत्साह और उर्जा का भरपूर संचार होता है।

लेकिन जिन दम्पत्तियो में कामेच्छा अधिक हो उन्हें दक्षिण पूर्व में अपना शयन कक्ष नहीं रखना चाहिए। इससे कामेच्छा और अधिक प्रबल होकर परेशानी का कारण बन सकता है।

वास्तु विज्ञान के अनुसार उत्तर पश्चिम दिशा का शयन कक्ष पति-पत्नी के लिए हर तरह से बेहतर होता है। इससे आपसी प्रेम और तालमेल बढ़ता है। संतान सुख के लिए भी यह अच्छा होता है।

Similar Post You May Like

  • ये 10 घरेलू नुस्खे बढ़ा देंगे आपकी खूबसूरती

    ये 10 घरेलू नुस्खे बढ़ा देंगे आपकी खूबसूरती

    हम अहमियत नहीं देते, पर हमारे रोमछिद्र हमारी सेहत और खूबसूरती दोनों को बरकरार रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। हमें जो पसीना निकलता है, वह त्वचा की सतह पर मौजूद रोमछिद्रों के माध्यम से निकलता है। ये रोमछिद्र शरीर से अतिरिक्त तेल को बाहर निकालते हैं। कहा जा सकता है कि त्वचा पर मौजूद रोमछिद्रों की मदद से ही त्वचा सांस लेती है। जब ये रोमछिद्र बंद हो जाते हैं तो मुहांसे होने लगते हैं। सा

  • सेनेटरी नैपकिन के इस्तेमाल से पहले जान लें ये 5 बातें, कहीं गलती तो नहीं हो रही

    सेनेटरी नैपकिन के इस्तेमाल से पहले जान लें ये 5 बातें, कहीं गलती तो नहीं हो रही

    पीरियड्स के दौरान लड़कियां सेनेटरी नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं। ये नैपकिन शरीर से होने वाले रक्त स्त्राव को सोखने का काम करता है। अक्सर ऐसा देखा जाता है कि इस नैपकिन को इस्तेमाल करते समय लड़कियां कुछ गलतियां कर बैठती है। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि सेनेटरी नैपकिन का इस्तेमाल करते समय किन 5 बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। नैपकिन की क्वालिटी का रखें ध्यान अक्सर ऐसा होता है कि ल

  • संतरे का करें यूं इस्तेमाल और पाएं बेदाग और निखरी त्वचा

    संतरे का करें यूं इस्तेमाल और पाएं बेदाग और निखरी त्वचा

    नई दिल्ली: गर्मियों हो या फिर कोई और मौसम में टैनिंग की समस्या होना एक बात होती है। इस समस्या से हर कोई परेशान होता है, लेकिन ये एक ऐसी समस्या है जो कि आपको बदसूरत भी बना देती है। इससे निजात पाने के लिए हम मार्केट से कई तरह की क्रीम लेकर आते है। जिससे कि इस समस्या से निजात मिल जाएं, लेकिन ऐसा हो नहीं पता है। सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से त्वचा की टैनिंग होना यानी त्वचा का रंग काल

  • किशोरों में रोमांस करने के लिए नहीं बल्कि इस लिए अच्छा लग रहा है सेक्सटिंग!

    किशोरों में रोमांस करने के लिए नहीं बल्कि इस लिए अच्छा लग रहा है सेक्सटिंग!

    नई दिल्ली: इन दिनों युवाओं के बीच सेक्सटिंग लेकर कुछ ज्यादा ही दिलचस्पी ले रहे है। किशोर किसी न किसी को अपनी निर्वस्त्र तस्वीर भेज देते है, लेकिन हाल में ही एक शोध आया जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। इंडियाना युनिवर्सिटी के किंसे इंस्टीट्यूट के सेक्सपर्ट्स द्वारा की गई नई स्टडी के अनुसार आजकल ज़्यादातर लोग सेक्सटिंग प्रेफर करते हैं और खासकर महिलाएं उसकी शुरूआत करती हैं। 2012 में स

  • आपके बच्चों में भी होता है झगड़ा ? ऐसे सुलझाएं उनकी लड़ाई

    आपके बच्चों में भी होता है झगड़ा ? ऐसे सुलझाएं उनकी लड़ाई

    मां-बाप बच्चों में छोटी-छोटी बातों पर होने वाले झगड़े से परेशान रहते हैं. वो उनके झगड़ों को पूरी तरह से खत्म करना चाहते हैं, लेकिन समझ नहीं आता कि क्या करें. बच्चों के झगड़े खत्म करते करते उनकी एनर्जी खत्म हो जाती है. पर किसी एक बच्चे के मन में उनकी छवि खराब भी हो जाती है. आप भी बच्चों के झगड़े से छुटकारा पाना चाहते हैं तो इसके लिए सही तरीके अपनाएं. मदद बच्चे भाई-बहन की गलती बताएं तो उनकी बा

  • रूमी के ये 10 Motivational Quotes बदल देंगे जिंदगी का नजरिया

    रूमी के ये 10 Motivational Quotes बदल देंगे जिंदगी का नजरिया

    तेरहवीं शताब्दी के सूफी संत जलालुद्दीन मोहम्मद बल्खी "रूमी" का जन्म अफगानिस्तान के बल्ख शहर में 1207 में हुआ था. दुनिया के जाने-माने कवि और सूफी संत जलालुद्दीन रूमी धार्मिक विद्वान भी थे. अमेरिका के लोग रूमी के अनमोल विचारों के दीवाने हैं. उनके विचारों को पढ़कर हमेशा किसी न किसी परेशानी का हल मिलता है. पढ़ें रूमी के प्रेरणादायक विचार. 1 जब कोई एक गलीचा को पीटता है, प्रहार गलीचा के खिलाफ

  • इस कारण होते है अनियमित पीरियड्स, ऐसे पाएं इस समस्या से निजात

    इस कारण होते है अनियमित पीरियड्स, ऐसे पाएं इस समस्या से निजात

    हर महिला को पीरियड्स के इस चक्र से हर माह होकर गुजरना पड़ता है। यह महिला के शरीर के लिए बहुत ही जरुरी होता है, क्योंकि यही पीरियड्स का च्रक महिलाओं की प्रजनन प्रणाली को परिवर्तित करता है। जिसके बाद ही कोई महिला मां बनने लायक बनती है। आज का समय में लडकियां इतनी आगे पहुंच गई है, लेकिन पीरियड्स को लेकर आज भी अज्ञानता और शर्मवश किसी से बताने से झिझकती है। इस झिझकता के कारण ही पीरियड्स सं

  • भूलकर भी पीरियड्स के दौरान न करें ये 6 काम, हो सकता है जानलेवा

    भूलकर भी पीरियड्स के दौरान न करें ये 6 काम, हो सकता है जानलेवा

    महीने के वो दिन हर औरत के लिए अलग होते हैं। कुछ महिलाओं को इन दिनों में तेज दर्द सहना पड़ता है तो कुछ के लिए ये सामान्य होता है। पर लगभग हर औरत पीरियड्स के दौरान बेचैन रहती है। पीरियड्स के दौरान महिलाओं के शरीर में कई तरह के हॉर्मोनल बदलाव होते हैं, जिसके चलते उन्हें कई तरह की शारीरिक और मानसिक तकलीफ से गुजरना पड़ता है। जैसे कि मांसपेशियों में खिंचाव, मरोड़, दर्द, भारीपन, चक्कर आना आद

  • सावन में मेंहदी के बिना महिला का श्रृंगार है अधूरा, देखे कुठ लेटेस्ट डिजाइन्स

    सावन में मेंहदी के बिना महिला का श्रृंगार है अधूरा, देखे कुठ लेटेस्ट डिजाइन्स

    देश में फेस्‍टीवल सीजन शुरु हो चुका है और अगले कुछ माह एक से बढ़कर एक त्‍यौहार आ रहे हैं। फेस्‍टीवल सीजन में महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी लगाना बेहद पसंद करती है फिर चाहे सावन, रक्षा बंधन का त्‍यौहार हो या फिर दीपावली या जन्‍माष्‍टमी का। महिलाओं के लिए ये महीना उनके सुहाग के नजरिए से काफी खास है। महिलाएं इस महीने में पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं, श्रृंगार करती हैं, जिसमें

  • बाइक पर इंडिया टूर घूमीं तीन लड़कियां, क्या हुआ जब खत्म हो गए पैसे

    बाइक पर इंडिया टूर घूमीं तीन लड़कियां, क्या हुआ जब खत्म हो गए पैसे

    अपनी-अपनी बाइक पर, स्पेशल गियर और सूट पहने 8500 किलोमीटर की रोड ट्रिप पर निकली इन तीन महिलाओं की कहानी तरोताज़ा करने वाली है। “क्या आप वो (एस्ट्रोनॉट) हो जो चांद पर जाते हैं” – ये वो सवाल था जो अनीता पीटर, स्मृति गट्​टू और जय भारती को अपनी 27 दिन की रोड ट्रिप के दौरान अकसर सुनने को मिला। क्योंकि इनकी बाइक्स, ब्लैक गियर और ड्रेस को देखकर लोगों को यही लगता था। पहले भी बाइक पर शॉर्ट ट्रिप पर जा

ताज़ा खबर