Search
अजबगजब   
34
90 साल में बनकर तैयार हुई थी दुनिया की सबसे बड़ी गौतम बुद्ध की मूर्ति
दुनिया में कई तरह की धारणा सदियों से चलती आ रही है. जिनके पीछे कोई वैज्ञानिक तर्क न होने पर भी लोग पीढ़ियों तक इसे मानते आ रहे हैं. जैसे हमारे यहां कहा जाता है कि सुबह-सुबह अपने किसी प्रियजन का चेहरा देखना चाहिए, जिससे कि हमारा पूरा दिन अच्छा गुजर सके. इसी तरह चीन के लेशान में स्थित महात्मा बुद्ध की विशाल प्रतिमा को देखकर, लोग अपने नए साल की शुरूआत करते हैं.

इनकी मान्यता है कि नए साल की शुरूआत में अपने मार्गदर्शक गौतम बुद्ध की इस प्रतिमा को एक बार देखने भर से ही किसी भी व्यक्ति की सोई किस्मत चमक सकती है. ‘लेशान बुद्ध’ के नाम से प्रसिद्ध 230 फीट लम्बी इस पत्थर की प्रतिमा को, यूनेस्क

     
Read more

     
22
शंगचुल महादेव मंदिर – घर से भागे प्रेमियों को मिलता है यहां आश्रय
हिमाचल प्रदेश जितना अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण जाना जाता है उतना ही यहां की परंपराओं के कारण भी। आज हम आपको बता रहा है कुल्लू के शांघड़ गांव के देवता शंगचूल महादेव के बारे में जो घर से भागे प्रेमी जोड़ों को शरण देते हैं।

पांडव कालीन शांघड़ गांव में कई ऐतिहासिक धरोहरें हैं। इन्ही में से एक हैं यहां का शंगचुल महादेव मंदिर।

शंगचूल महादेव की सीमा में किसी भी जाति के प्रेमी युगल अगर पहुंच जाते हैं तो फिर जब तक वह इस मंदिर की सीमा रहते हैं उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

यहां तक की प्रेमी युगल के परिजन भी उससे कुछ नहीं कह सकते। शंगचुल महादेव मंदिर का सीमा क्षेत्र करीब 100 बीघा क
Read more
23
जानिए अघोरियों की रहस्यमयी दुनिया की कुछ अनजानी और रोचक बातें
अघोर पंथ हिंदू धर्म का एक संप्रदाय है। इसका पालन करने वालों को अघोरी कहते हैं। अघोर पंथ की उत्पत्ति के काल के बारे में अभी निश्चित प्रमाण नहीं मिले हैं, परन्तु इन्हें कपालिक संप्रदाय के समकक्ष मानते हैं। ये भारत के प्राचीनतम धर्म “शैव” (शिव साधक) से संबधित हैं। अघोरियों को इस पृथ्वी पर भगवान शिव का जीवित रूप भी माना जाता है। शिवजी के पांच रूपों में से एक रूप अघोर रूप है। अघोरी हमेशा से लोगों की जिज्ञासा का विषय रहे हैं। अघोरियों का जीवन जितना कठिन है, उतना ही रहस्यमयी भी। अघोरियों की साधना विधि सबसे ज्यादा रहस्यमयी है। उनकी अपनी शैली, अपना विधान है, अपनी अलग विधियां हैं। अ

     
Read more

     
74
क्यों पैदा होते हैं ट्रांसजेंडर (किन्नर)
ट्रांसजेंडर लोग आमतौर वह होते हैं जिन्हें न तो पुरुष और न ही महिला की कैटेगरी में रखा जा सकता है। ट्रांसजेंडर लोगों में पुरुष और महिला दोनों के ही गुण हो सकते हैं। ऊपर से पुरुष दिखाई देने वाले किसी व्यक्ति में इंटरनल ऑर्गन और गुण महिला के हो सकते हैं और ऐसे ही ऊपर से महिला नजर आने वाले किसी व्यक्ति में पुरुषों वाले गुण और ऑर्गन्स हो सकते हैं।

क्यों पैदा होते हैं ट्रांसजेंडर

ट्रांसजेंडर लोग आमतौर वह होते हैं जिन्हें न तो पुरुष और न ही महिला की कैटेगरी में रखा जा सकता है। ट्रांसजेंडर लोगों में पुरुष और महिला दोनों के ही गुण हो सकते हैं। ऊपर से पुरुष दिखाई देने वाले किसी व
Read more
75
पहले की 25 शादियां, जिनसे हैं इतने बच्चे, अब लगाने पड़ रहे हैं कोर्ट के फेरे
मॉन्ट्रियल: हाल ही में कनाडा में बहुविवाह का एक मामला सामने आया है। जिसके चलते यहां की अदालत ने सोमवार को अपने ऐतिहासिक फैसले में देश में बहुविवाह की प्रथा पर प्रतिबंध को सही ठहराते हुए दो व्यक्तियों को बहुविवाह का दोषी ठहराया। इन दोनो व्यक्तियों की शादी और बच्चों के बारे में सुनकर आप जरूर हैरान हर जाएंगे। दोषी ठहराये गये व्यक्तियों में से एक की 25 पत्नियां और 146 बच्चे हैं जबकी दूसरे की पांच पत्नियां हैं। विंस्टन ब्लैकमोर और जेम्स मैरियन ओलेर को देश के बहुविवाह कानून के मुताबिक दोषी पाए जाने के बाद अधिकतम पांच साल जेल की सजा हो सकती है। कनाडा में यह कानून 127 वर्ष पहले लागू

     
Read more

     
178
इस राजा की थी 365 रानियां, उनके खास महल में केवल निर्वस्‍त्र हीं कर सकते थे एंट्री
भारत के एक महाराजा अपनी रंगीन मिजाजी के लिए काफी मशहूर रहे। इस रंगीन मिजाजी के सच्चे किस्से आपको चौंका देंगे। हम बात कर रहे हैं पटियाला रियासत के महाराजा और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर के दादा महाराजा भूपिंदर सिंह की।

पटियाला के इन महाराजा की गतिविधियों का जिक्र महाराजा भूपिंदर सिंह के दीवान जरमनी दास ने अपनी किताब 'महाराजा' में किया है। महाराजा भूपिंदर सिंह ने पटियाला में 'लीला-भवन' या रंगरलियों का महल बनवाया था, जहां केवल निर्वस्त्र लोगों को एंट्री मिलती थी। यह महल पटियाला शहर में भूपेन्दरनगर जाने वाली सड़क पर बाहरदरी बाग़ के करीब बना हआ है। इस महल का जिक्र
Read more
121
इस देश में हर साल समुद्र हो जाता है लाल, कारण जानकर रह जाएंगे दंग
अगर इस तस्वीर को देखें तो इसमें समुद्र में पानी का रंग साफ तौर पर लाल दिखेगा. ये तस्वीर पिछले 48 घंटों से पूरी दुनिया में वायरल हो रही है. केवल ये ही नहीं, इस तरह की कई और तस्वीरें भी पूरी दुनिया में वायरल हो रही हैं. सच्चाई जानेंगे तो स्तब्ध रह जाएंगे.

हां, समुद्र के लाल रंग की वजह खून ही है. त्योहार के लिए करीब एक हजार व्हेल मछलियों को मारने से ऐसा हुआ है.

खूनी त्योहार से होता है समुद्र लाल
डेनमार्क में हर साल एक खूनी त्योहार की वजह से ऐसा होता है. वहां एक द्वीप है, जिसका नाम फैरो है. सैकड़ों सालों से वहां इस त्योहार को अंजाम दिया जा रहा है. यहां तक कि डेनमार्क की सरकार भी इस त्योहा

     
Read more

     
214
ये हैं भारत के रहस्यमयी खजाने जिनकी खोज अभी है बाकी...
एक समय था जब भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था, मगर भारत को विदेशियों ने इतनी बार लूटा कि यहां का सारा खजाना खत्म हो गया। यही दौलत दुनिया भर के हमलावरों को भी अपनी ओर खींचती थी। इसीलिए उस दौर के राजा अपने खजानों को बचाने के लिए इनसे जुड़ी जानकारियां गुप्त रखते थे। उस दौरान कई क्रूर आक्रमणकारी भले ही राजाओं की सत्ता छीनने में कामयाब रहे, लेकिन वे कई छिपे हुए खजानों को हासिल नहीं कर सके।

भारत में ऐसे कई खजाने हैं, जिनकी तलाश करनी अभी भी बाकी है। हम आपको देश के ऐसे ही कुछ खजानों के बारे में बता रहे है जिन्हें लेकर कई तरह की किवदंतिया आज भी प्रचलित है...

नादिर शाह का खजाना: नादिर
Read more
168
यहां जलती चिताओं के पास आखिर क्यों पूरी रात नाचती हैं सेक्स वर्कर?
जहां लाशों का आना और चिता का जलना कभी नहीं थमता, वहीं अगर उसी चिता के करीब कोई महफिल सजा बैठे और शुरू हो जाए श्मशान में डांस तो उसे आप क्या कहेंगे?

काशी का वह श्मशान जहां चिता की आग कभी ठंडी नहीं होती और जिसके बारे में कहा जाता है कि यहां चिता पर लेटने वाले को सीधा मोक्ष मिलता है। जहां लाशों का आना और चिता का जलना कभी नहीं थमता, वहीं अगर उसी चिता के करीब कोई महफिल सजा बैठे और शुरू हो जाए श्मशान में डांस तो उसे आप क्या कहेंगे? श्मशान यानी जिंदगी की आखिरी मंजिल और चिता…यानी जिंदगी का आखिरी सच। पर जरा सोचें…। अगर इसी श्मशान में उसी चिता के करीब कोई महफिल सजा बैठे और शुरू हो जाए श्मश

     
Read more

     
138
भारत का एक मात्र श्मशान जहां लाशों से भी वसूलते हैं पैसे......
हिंदू रीति रिवाजों के मुताबिक सिर्फ दिन में ही दाह संस्कार किया जाता है लेकिन गंगा के तट पर मणिकर्णिका घाट भारत का एक मात्र ऐसा घाट है जहाँ दिन रात यानि 24 घंटे शवों का दाह संस्कार किया जाता है।

बनारस की तीन चीज़ें पूरे संसार में प्रसिद्ध है। काशी विश्वनाथ मंदिर, बनारसी साड़ी और मणिकर्णिका घाट। हिंदू रीति रिवाजों के मुताबिक सिर्फ दिन में ही दाह संस्कार किया जाता है लेकिन गंगा के तट पर मणिकर्णिका घाट भारत का एक मात्र ऐसा घाट है जहाँ दिन रात यानि 24 घंटे शवों का दाह संस्कार किया जाता है। मणिकर्णिका श्मशान घाट के बारे में मान्यता है कि यहां चिता पर लेटने वाले को सीधे मोक्ष मि
Read more
214
यहां सभी भाई करते हैं एक ही लड़की से शादी, एक टोपी पर निर्भर करता है विवाहित जीवन
हमारे देश के हर क्षेत्र का रहन-सहन, भाषा जिस प्रकार अलग-अलग है। उसी तरह हर जगह की परंपराएं और रीति-रिवाज भी कुछ अलग हैं जो उस क्षेत्र की पहचान बनी हुई है।

हमारे देश में हर जाति, धर्म के लोग अपने समुदाय से जुड़ी परंपराएं और रीति-रिवाजों को मानते हैं और उनका पालन करते हैं। हमारे देश के हर क्षेत्र का रहन-सहन, भाषा जिस प्रकार अलग-अलग है। उसी तरह हर जगह की परंपराएं और रीति-रिवाज भी कुछ अलग हैं जो उस क्षेत्र की पहचान बनी हुई है। ऐसी ही एक परम्परा है हिमाचल प्रदेश की जिसमें महिला का विवाह एक ही परिवार के सभी सगे भाइयों से एक साथ किया जाता है। यहाँ के निवासी इस प्रथा का सम्बन्ध पांडवो क

     
Read more

     
186
कब्र में हो रही थी हरकत, गांव वालों ने मिट्टी हटाई तो जिंदा निकला शख्स
रायपुर: अगर आपसे कहूं कि कोई शख्स कब्र में दफनाने के बाद जिंदा बच गया तो शायद आप नहीं मानेंगे, लेकिन छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक ऐसा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक कब्र के अंदर से जिंदा इंसान के बाहर निकलने का मामला सामने आय
Read more
611
ऐसे 12 देश जहां घर बनाने के लिए बिल्कुल फ्री में मिलती हैं जमीन और रुपये
आज इस महंगाई के दौर में इस दुनिया में हर एक इंसान का एक सपना होता है कि उसका अपना घर हो, जिसमें अपने परिवार के साथ देखे गये हसीं सपनों को वो पूरा होता हुआ देखे। आसमान छूती ज़मीन की कीमतों और बिल्डर्स की मनमानी के बीच आजकल तो अपने घर का सपना सिर्फ़ सपना ही हो कर रह ग

     
Read more

     
527
आखिर वो कोन सा पेड़ है? जिस पर लगते हैं 40 तरह के फल
अजब गजब: जानिए जिस पर लगते हैं 40 तरह के फल:-
क्या भला एक ही पेड़ से 40 प्रकार के फल लग सकते हैं ? लेकिन यह सच है। अमरीका में एक विजुअल आर्टस के प्रोफेसर ने एक ऎसा ही अद्भुत पौधा तैयार किया है। इतना ही नहीं बल्कि यह 40 प्रकार फल देने वाला यह पौधा बिकाऊ भी है, जिसकी कीमत अभी तक 19
Read more
322
जहाँ सामूहिक आत्महत्या करने आते हैं पक्षी
जिंदगी और मौत के रहस्य को जितना अधिक सुलझाने का प्रयास किया जाता है, वह उतना ही उलझता जाता है। इसमें हैरानी की बात यह है कि इस जिंदगी और मौत के जाल में इंसान ही नहीं जानवर भी उलझे हुए हैं। आपको थोड़ी हैरानी हो रही होगी किा भला पक्षी आत्म हत्या कैसे कर सकते हैं। ले

     
Read more

     
297
जानिए एक ऐसे गांव के बारे में जो बसता है जमीन के अंदर
जी हाँ आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे गॉंव के बारे में जो बसता है जमीन के अंदर और यहां रहने वालों की कुछ खासियत भी है तो जानिए ऐसे गांव के बारे में
दक्षिण ऑस्ट्रेलिया में स्थित इस गांव का नाम कूबर पेडी है। यहां के लोगों ने यहां के ओपल की खदानों में घर बनाए हुए ह
Read more
277
कभी नहीं लौटे यंहा जाने वाले क्योंकि यह जगह है मुर्दों का शहर
द सिटी ऑफ डेड यानी मुर्दों का शहर
वैसे तो भूत प्रेतों के बारे में आपने कभी पढ़ा या सुना जरूर होगा, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने वाले हैं जो पूरी तरह भूतिया है। रूस के उत्तरी ओसेटिया के सुदूर विरान इलाके में स्थित दर्गाव्स गांव नाम की यह जगह बहुत

     
Read more

     
281
कौन है वह जो भटक रहा है धरती पर 3000 वर्षों से धर्म की रक्षा हेतु धर्म युद्ध के लिए
वह जो 3000 वर्षों से धरती पर भटक रहा है धर्म की रक्षा हेतु जो आज भी जीवित है धर्म युद्ध के लिए!!
अलग-अलग लोगों की अलग-अलग मान्यता है। यह वह इंसान है जो महाभारत काल से जीवित है, और आज भी कई लोगों को दिखाई देते हैं। महाभारत काल से लेकर आज तक यह योद्धा धरती के अलग-अलग स्थानों &
Read more
481
यहां रात में रुकने पर इन्सान बन जाता है पत्थर:- जानिए इस रहस्यमयी मंदिर के बारे में
सभी जानते हैं कि भारत चमत्कारों और आस्था का देश है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक कई चमत्कारिक मंदिर, दरगाह, गांव, साधु, संत, तांत्रिक और रहस्यमय गुफाएं मिल जाएंगी। अब इसे आप चमत्कार कहें या अंधविश्‍वास, लेकिन एक शहर में एक ऐसा भी स्थान हैं, जहां जाकर लोग हमेशा-हमेश

     
Read more

     
359
देखिये कुछ अनसुलझे रहस्य जिन्हें आज तक वैज्ञानिक भी नहीं सुलझा पाए
प्रकृति के आगे हम सब छोटे हैं. विज्ञान के ज़रिए हम कितनी भी तरक्की कर लें, लेकिन प्रकृति की एक चाल हमारी हर उपलब्धि से बड़ी होती है. वैज्ञानिक अपने कई शोध में प्रकृति का रहस्य पता करने की कोशिश में हैं और आज भी ये सिर्फ कोशिश ही है. पुरातत्व विभाग अकसर ऐसी खोज करता
Read more
 

1
2
 next  
 
पब्लिक पोल  
हाँ
नहीं
ठीक
नहीं
Poll Comments
  
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
 
 
 
 
 
होम  |  देश  | MP-CG  | धर्म-कर्म  | हेल्थ  | अजबगजब  | व्यक्ति-ब्लॉग  | लाइफस्टाइल  | सैर  | राजनीति  | रीवा रीजन  | UP-RJ  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें  | Live टीवी
TejNews.com Copyrights2011-2012. All rights reserved. Designed & Developed by : MakSoft.in
 
Hit Counter