Search
धर्म-कर्म   
10
महालया आज: जानिए इसका मतलब, शारदीय नवरात्र गुरुवार से शुरु
महालया मांगलिक पर्व दुर्गा पूजा से सात दिन पहले नए चांद के महत्व को दर्शाता है। माना जाता है कि इसके साथ ही त्योहारों की शुरूआत हो जाती है। जो कि आपकी लाइफ में सुख-शांति और समृद्धि लाती है।

महालया यानी मां का आवाहन आज 19 सितंबर को है। इसमें मां दुर्गा का अवाहन किया जाता है। आपको बता दें कि शारदीय नवरात्र 21 सितंबर से शुरू होकर 29 सितंबर तक चलेगी। साथ ही दशहरा 30 सितंबर को मनाया जाएगा।

अश्व‍िन महीने की अमावस्या को महालया होती है। दशहरे के पहले जो अमावस्या की रात आती है उसे 'महालया अमावस्या' के नाम से जाना जाता है। एक तरह से इसी दिन से दशहरा की शुरुआत हो जाती है।

जानिए क्या है मह

     
Read more

     
21
इंदिरा एकादशी: इस विधि से से करेंगे पूजा, तो पूर्वजों को मिलेगा मोक्ष
हिंदू पचांग के अनुसार अश्विन माह की कृष्ण पक्ष की एकदाशी पितरों को मुक्ति दिलाने के लिए उत्तम मानी जाती है। इसे इंदिरा एकादशी के नाम से भी जानते है। इस दिन शालिग्राम की पूजा करने का विधान है। इस बार एकादशी 16 सितंबर, शनिवार को है।

हिंदू शास्त्रों में माना जाता है कि इस दिन पूजा करने से इंसान को सभी पापों से मुक्ति मिलती है। साथ ही पितरों को स्वर्ग की प्राप्ति होगी। जानिए इसकी पूजा विधि और कथा के बारें में।

पूजा विधि
पद्म पुराण के अनुसार एकादशी व्रतों के नियमों का पालन दशमी तिथि से किया जाता है, जिसमें एक बार भोजन, ब्रह्मचर्य का पालन करना होता है। अगले दिन यानि एकादशी व्र
Read more
26
केदारनाथ से लेकर तमिलनाडु तक एक सीधी रेखा में कैसे बने शिव मंदिर
आज विज्ञान भले ही कितने उन्नत होने का दावा करे, लेकिन भारत के ज्ञान, विज्ञान और अध्यात्म ने जिस ऊंचाइंयों को छुआ है, उसकी बराबरी कोई नहीं कर सकता है। इसकी मिसाल है एक हजार साल से भी पुराने ये आठ शिव मंदिर, जो एक दूसरे से 500 से 600 किमी दूर स्थित हैं। मगर, उनकी देशांतर रेखा एक ही है।

सीधी भाषा में कहें, तो सभी मंदिर एक सीध में स्थापित हैं। ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि क्या प्राचीन हिंदू ऋषियों के पास कोई ऐसी तकनीक थी, जिसके माध्यम से उन्होंने भौगोलिक अक्ष को मापा और इन सभी सात शिव मंदिरों को एक सीधी रेखा पर बनाया।

यह संभव हो सकता है क्योंकि बिना किसी माप प्रणाली के इन मंदिरों को ए

     
Read more

     
65
बनाएं ऐसा सिग्नेचर, कभी नहीं होगी धन की कमी
एक हस्ताक्षर पर आपके सारे काम टिके होते हैं। आपकी वित्तीय मामलों में आपके हस्ताक्षर की भूमिका बेहद मायने रखती है आपका एक गलत हस्ताक्षर आपका लाखों का नुकसान करा सकता है, जबकि एक सही हस्ताक्षर आपके भाग्य को मजबूत बनाता है।

वास्तु शास्त्र में ऐसे कई उपाय बताएं गए है जिसे अपनाकर आपके अपने भाग्य को बदल सकते है। हमारे भाग्य में में बहुत सारी चीजें होती है जो कि आपकी एक गलती के कारण आपको नहीं मिल पाती है। इसी कारण वास्तु शास्त्र में ऐसे उपाय बताए गए है। जिन्हें अपना कर आप अपनी मुश्किल भरी लाइफ में थोड़ा सा आसान बना सकते है।

अगर आप भी वित्तीय समस्याओं से परेशान हैं तो वास्तु शा
Read more
58
घर में लाएं ड्रैगन का ये जोड़ा, मिलेगी अपार संपदा और सुख-शांति
हिंदू धर्म में वास्तु शास्त्र एक ऐसा शास्त्र है जिसके हिसाब से हम लोग हर चीज करते है। जिससे कि घर में खुशहाली आए, धन की कमी न हो साथ ही परिवार के किसी भी व्यक्ति को कोई भी समस्या न हो। इसके कारण हम वास्तु के अनुसार हर चीज को उठा कर रखते है, लेकिन क्या आप जानते है कि घर में लगाएं गए तस्वीरों से भी आपके जीवन में काफी प्रभाव पड़ता है। इससे आपकी लाइफ में सुख-शांति भी आ सकती है। जानिए वास्तु के अनुसार घर पर किस जानवर की तस्वीर किस दिशा में लगाने से मिलेगा लाभ।

वास्तु में ड्रैगन को चार मुख्य प्राणियों में से एक माना जाता है- कछुआ, लाल पक्षी, सफेद बाघ और चौथा ड्रैगन। ड्रैगन ऊर्जा का प्र

     
Read more

     
23
18 सिंतबर होगा अद्भुत संयोग, चांद करेगा यह कारनामा
हर साल कोई न कोई भगोलकीय घटना घटती रहती है। हर ग्रह हर माह, साल अपनी चाल बदलते है। जिसका फर्क हमारी लाइफ में भी बहुत पड़ता है। इस बार भी 18 सितंबर को कुछ ऐसा ही अद्भुत संयोग होगा। इस दिन माघ पूर्णिमा भी है। इसके साथ ही चांद एक के बाद लगातार 3 तारों से आच्छादन करेगा। यह आच्छादन दुनिया में कुछ ही जगहों पर दिखेगा।

शुक्र व चंद्रमा के मघा नक्षत्र में होगी ये घटना
इस बारे में भारतीय तारा भौतिकी संस्थान के प्रोफेसर रमेश कपूर ने बताया कि इस समय शुक्र मघा नक्षत्र के निकट ही है। शुक्र के आच्छादन के 4 घंटे बाद चंद्रमा मघा नक्षत्र का आच्छादन करेगा। तब भारत में सुबह 10 बजकर 30 मिनट का समय होगा
Read more
27
इन उपाय से शांत होंगे पितृ, सारे दोषों से होंगे मुक्त
हमारे पूर्वज जिनकी सद्गति या मोक्ष किसी कारणवश नहीं हो पाता है तो वह हमसे आशा करते हैं कि हम उनकी सद्गति या मोक्ष का कोई साधन करें। यदि उनकी आशाओं को पूर्ण किया जाए तो वे हमें आशीर्वाद देते हैं। घर में पितृदोष है तो इन उपायों को अपनाकर पितृदोष को शांत किया जा सकता है।

पीपल के नीचे गाय के घी का दीप जलाएं। दूध से बनी खीर का भोग लगाएं। पीपल पूजा के जल का घर में छिड़काव करें। पानी में पितृ का वास माना गया है। पीने के पानी के स्थान पर उनके नाम का दीपक जलाने से पितृदोष की शांति होती है। पितरों को याद कर गाय को चारा खिलाएं।

सूर्यदेव से हाथ जोड़कर प्रार्थना करें कि आप मेरे पितरों तक

     
Read more

     
37
यह गुरुवार है बेहद खास इन उपायों से खुलेंगे किस्मत के ताले
गुरुवार कई कारणों से बहुत ही खास है। शास्त्रों के अनुसार आज कुछ ऐसे संयोग बने हुए हैं जिनसे आप चाहें तो संतान सुख में आने वाली बाधाएं और आर्थिक मुश्किलों को दूर कर परलोक में भी अपने लिए अच्छा स्थान बना सकते हैं।

ज्योतिषशास्त्र की गणना के अनुसार इस दिन सावन मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है। इस एकादशी को पद्मपुराण में पवित्रा एकादशी कहा गया है क्योंकि इस एकादशी के पुण्य से मनुष्य के पाप कट जाते हैं और आत्मा पर कर्मों की मलिनता दूर होती है। इस पुराण में बताया गया है कि इस एकादशी से वाजपेयी यज्ञ करने का पुण्य भी प्राप्त होता है। जिनसे मृत्यु के बाद परलोक में उत्तम स्थान प
Read more
30
ऐसा होगा घर में स्टोर रूम तो बना रहेगा अन्न धन का भंडार
घर में सुख समृद्धि और धन के मामले में सबसे ज्यादा महत्व स्टोर का होता है। इसलिए किराए का मकान हो या खुद का लोगों को सबसे पहले स्टोर रूम और भंडार कोण का ही ख्याल आता है। इसकी वजह यह है कि इसी दिशा और स्थान से घर में सुख शांति और धन समृद्धि का आगमन होता है।

वास्तु विज्ञान के अनुसार भंडार कक्ष यानी स्टोर रूम पूजा घर से लगा हुआ या सामने हो तो यह बहुत ही शुभ रहता है। इससे घर में घर में धन का आगमन निरंतर बना रहता है। गृहस्वामी बुद्धिमानी और ईमानगदारी से खूब धन कमा पाते हैं

बेडरूम से सटा हुआ स्टोर रूम शुभ माना गया है। ऐसे में जीवनसाथी का भाग्य आपको लाभ दिलाता है। बेडरूम में ही स्टोर

     
Read more

     
52
भूलकर भी इन दिनों में न करें ये काम, वरना जाने पड़ेगा नर्क
हिंदू धर्म में श्राद्ध का बहुत अधिक महत्व है। किसी भी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसका श्राद्द करना जरुरी माना जाता है। तभी हमारे पूर्वज को मुक्ति, मोक्ष मिलती है। ऐसी मान्यता है कि अगर किसी मनुष्य का विधिपूर्वक श्राद्ध और तर्पण ना किया जाए तो उसे इस लोक से मुक्ति नहीं मिलती और वह भूत के रूप में इस संसार में ही रह जाता है। इस बार 6 सितंबर से पितृपक्ष के श्राद्ध शुरु हो रहे है। जो कि 19 सितंबर को सर्वपित्री दर्श के साथ समाप्त होगे।

ब्रह्मवैवर्त पुराण में बताया गया है कि दिवंगत पितरों के परिवार में या तो सबसे बड़ा पुत्र या सबसे छोटा पुत्र और अगर पुत्र न हो तो नाती, भतीजा, भांजा या श
Read more
37
मधुर महागणपति मंदिर: ऐसा मंदिर जहां दीवार से प्रकट हुए गणपति
शि‍व-पार्वती के पुत्र गणेश भगवान को हर पूजा में सबसे पहले याद किया जाता है। गणपति जीवन के हर दुख व बाधा को हरने वाले हैं। किसी भी शुभ काम को करने से पहले भगवान गणेश को याद किया जाता है।

भगवान गणेश उनके लिए अच्छे भाग्य ले कर आते हैं। यही वजह है कई हिंदू कोई भी नया काम करने से पहले भगवान गणेश की पूजा करते हैं, ताकि नए काम में उन्हें सफलता मिले। भारत के तकरीबन हर हिस्से में बड़ी संख्या में गणेश मंदिर है। सभी मंदिर अपने-अपने कथाओं और चमत्कारों के कारण प्रसिद्ध है। आज हम आपको ऐसे मंदिर के बारें में बता रहे है। जो कि अपने आप में सबसे प्रचानी और प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर केरल में ह

     
Read more

     
41
श्री गणेश को करना है खुश, तो लगाएं केसरी मोदक से भोग
ये तो सभी जानते है कि मोदक गणेश जी का प्रिय मिठाई है अगर आप गणेश जी को प्रसन्न करना चाहते है। इनका भोग जरुर लगाएं। बाजार में मोदकों में महगाई की मार के साथ-साथ मिलावटी भी मिलता है तो इस बार क्यों न घर में ही मोदक बनाए जिन्हें बनाना बहुत ही आसान है। मोदक को बहुत तरह से बनाया जाता है लेकिन आज हम आपको अपनी खबर में केसरी मोदक बनाना बता रहे है जिन्हे बनाना बहुत आसान है और ये खाने में भी बहुत स्वादिष्ट होते है।

सामग्री
1. तीन चुटकी केसर
2. तीन कप मैदा
3. डेढ़ कप नारियल पाउडर
4. सात चम्मच चाशनी
5. तीन कप रवा
6. दो चम्‍मच इलायची पाउडर
7. एक चम्मच घी
8. तीन कप तेल
9. नमक स्‍वादानुसार

यू बनाएं के
Read more
79
अंक ज्योतिष में नाम का पहला अक्षर बताता है 'कैसे हैं आप'
ज्योतिष शास्त्र में जन्म का समय, नक्षत्र, दिन और नाम के अक्षर भी मायने रखते हैं. यहां हर बात का महत्व होता है. अंक ज्योतिष में नाम के पहले अक्षर से व्यक्ति के स्वभाव के बारे में बहुत कुछ बताया जाता है. जानिए पहले k, g, r, d अक्षर वाले नाम के लोगों के व्यक्ति पर क्या कहते हैं अंक ज्योतिष के जानकार.

'K' अक्षर वाले

k अक्षर वाले नाम के लोगों में भरपूर साहस और ज्ञान होता है, ये प्रोफेशनली सोचते हैं लेकिन ये अपने करीबियों के खिलाफ कभी गलत नहीं सोचते. ये लोग हमेशा आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं. ये लोग शादी के लिए सही पार्टनर के इंतजार में काफी समय तक रुकते हैं. जब तक इन्हें कोई समझने वाला पार्ट

     
Read more

     
92
बिजनेस में हो रहा है लगातार घाटा, तो अपनाएं ये वास्तु उपाय
बिजनेस एक ऐसी चीज है जो ठीक से चले तो आपको लखपति बना देती है। घटा में चली जाएं तो आप कही के नहीं बचते है। कई बार तो हम दिन-रात मेहनत भी करते है। इसके बावजूद हमें सफलता नहीं मिलती है। इसके कई कारण हो सकते है। इन्हीं में से एक कारण है वास्तु दोष।

वास्तु दोष राजा को भी रंक बना देता है। अगर आपने बिजनेस की सुरुआज की है। उसी समय वास्तु के अनुसार हर चज रखें, तो आपको काफी लाभ मिलेगा। सावन का महीना तो चल ही रहा है। ऐसे में शिव की भक्ति से बड़ा दूसरा और क्या उपाय हो सकता है। भगवान शिव की महिमा अपरमपार है।

अगर आपको बिजनेस में लगातार घाटा हो रहा है। लगातार मेहनत करने के बाद भी आपको सफलता नही
Read more
82
महाशिवरात्रि में खोले अपना व्रत टेस्टी केले के सलाद के साथ
सावन की महाशिवरात्रि में आज भगवान शिव को जलाभिषेक किया जाएं। इसके बाद कई लोग अपना व्रत खोल लेते है। कई लोग पूरे सावन रहने के बाद अपना व्रत खोलते है। व्रत रहने से हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी भी हो जाती है।

जब हम व्रत खोलते है, तो हेल्दी चीजों का सेवन न करें किसी भी चीज का सेवन कर लेते है। जो कि आपको बीमार भी कर देता है। अगर आप महाशिवरात्रि में अपना व्रत खोलना चाहते है, तो केले का ये हेल्दी सलाद रेसिपी खाएं। इससे आपको एनर्जी भी मिलेगी। साथ ही आसानी से बन भी जाएगी। जानिए बनाने की विधि के बारें में।



सामग्री
1. दो कटे हुए केले
2. एक कप फ्रेश दही
3. कटा हुआ आधा कप खीरा
4. एक कप पुद

     
Read more

     
103
सावन के शनिवार को करें ये काम, होगी हर मुराद पूरी
हर किसी को अपने जीवन में किसी न किसी तरह बडी समस्याओं का सामना करना पडता है कुछ समस्याएं ऐसी होती है जो अधिक समय तक रहती है जिसके कारण आप अशांत और सुकून भरी जिंदगी चाहने के लिए अपनी जिंदगी आपको बोझिल लगने लगती है। इस बार सावन के साथ-साथ शनिवार है, तो आप भगवान शनि के साथ-साथ शिव की भी पूजाकर उन्हें प्रसन्न कर सकते है।

इन समस्याओं से आपको निजात भगवान हनुमान और शनिदेव दिला सकते है क्योंकि इनकी साधना अति सरल एवं सुगम है चूंकि वह बाल ब्रह्मचारी थे इसलिए इनकी साधनाओं में ब्रह्मचारी व्रत अवश्य लेना चाहिए। साथ ही शनिदेव की पूजा करना बहुत ही आसान है।

अगर आपकी राशि में शनि की साढ़े
Read more
113
गुरु पूर्णिमा 2017: जानें कब और कैसे मनाया जाएगा यह महोत्सव
हिन्दू शास्त्रों में गुरु को भगवान से भी ऊपर दर्जा दिया गया है। कहा जाता है कि यदि भगवान से शापित कोई व्यक्ति है तो उसे गुरु बचा सकते है लेकिन गुरु से शापित व्यक्ति को स्वयं भगवान भी नहीं बचा सकते। गुरु की महिमा अपार है। गुरु बिन व्यक्ति का जीवन निरर्थक है। गुरु के बिना ना तो व्यक्ति ज्ञान प्राप्त कर सकता है और ना ही आत्म मुक्ति। हमारे जीवन में गुरु की भूमिका बेहद अहम है, यूं तो हम इस समाज का हिस्सा कहलाते है लेकिन हमें इस समाज योग्य केवल गुरु ही बनाते हैं।

गुरु बिना ज्ञान कहां,
उसके ज्ञान का आदि न अंत यहां।
गुरु ने दी शिक्षा जहां,
उठी शिष्टाचार की मूरत वहां।

आषाढ़ मास क

     
Read more

     
186
करके देखें, मिलेगा निश्चित आर्थिक लाभ
वेल्थ वाज में रखें किसी धनवान के घर की मिटटी
वेल्थ वाज दिखने में काफी खूबसूरत लगते है। इनकी चमक इतनी अधिक होती है ​कि कोई भी व्यक्ति इसे अपने घर में सजाने से खुद को नहीं रोक पाता। अधिकतर लोग वेल्थ वाज को घर की सजावट के रूप में प्रयोग करते हैं, लेकिन क्या आप जानते है कि यही वेल्थ वाज आपकी घर की आर्थिक स्थिति का प्रभावित करता है। फेंगशुई के अनुसार वेल्थ वाज को घर में रखने से पैसाें की कमी नहीं होती। लेकिन इसके लिए जरूरी है वेल्थ का सही तरीके से उपयोग। जानें वेल्थ वाज का रखने का सही तरीका।

– वेल्थ वाज खरीदते हुए ध्यान रखें कि यह पारदर्शी बिल्कुल भी हो। वेल्थ वाज मेटल, लकड़ी आदि
Read more
135
‘मोहिनी’ एकादशी : सभी पापों का क्षय करती है और सर्वोत्तम है
आज इस कथा को पढ़ने से मिलेगा एक हजार गौ दान का फल
युधिष्ठिर ने श्रीकृष्ण से पूछा,”केशव ! वैशाख मास के शुक्लपक्ष में जो एकादशी आती है उसे किस नाम से पुकारा जाता है? उसे करने से किस फल की प्राप्ति होती है? उसे कैसे किया जाता है?”

भगवान श्रीकृष्ण ने कहा,”धर्मराज युधिष्ठिर ! आप से पूर्व यह प्रश्न श्री रामचन्द्र जी ने महर्षि वशिष्ठ जी से पूछा था। उत्तर में वशिष्ठ जी ने बताया था की वैशाख मास के शुक्लपक्ष में जो एकादशी आती है उसे ‘मोहिनी एकादशी’ के नाम से जाना जाता है। यह एकादशी सभी पापों का क्षय करती है और सर्वोत्तम है। इस उपवास को करने से जीव मोह माया एवं किसी भी तरह के पाप से मुक्त

     
Read more

     
141
बच्चों को बुरी नजर से बचाना है तो करें ये उपाय...
बच्चों को नजर जल्दी लग जाती है. इससे बच्चे हमेशा बीमार रहने लगते हैं. ऐसे में माता-पिता को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है. अगर आप अपने बच्चे को बुरी नजर से दूर रखना चाहते हैं तो अपनाएं ये उपाय...

1. बच्चे को अपने हाथ से खाना परोसना चाहिए. आपके हाथ से परोसा गया खाना उसके शरीर में उसी तरह से लगेगा जिस प्रकार से बचपन में मां का दूध लगता है.

2. रात को सोते समय बच्चे के सिर के दायीं तरफ पानी का एक लोटा या गिलास रखें. इससे रात को सोते समय कुविचार उसके मस्तिक पर कोई असर नहीं कर पाएंगे.

3. बच्चे के जगने पर उसके पास जरूर उपस्थित रहें. यदि बच्चा जगने पर आपको देखता है तो दिन भर आपकी तस्वीर को
Read more
 

1
2
3
 next  
 
पब्लिक पोल  
हाँ
नहीं
ठीक
नहीं
Poll Comments
  
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
tejnews.com
 
 
 
 
 
होम  |  देश  | MP-CG  | धर्म-कर्म  | हेल्थ  | अजबगजब  | व्यक्ति-ब्लॉग  | लाइफस्टाइल  | सैर  | राजनीति  | रीवा रीजन  | UP-RJ  | नियम एवं शर्तें  | गोपनीयता नीति  | विज्ञापन हमारे साथ  | हमसे संपर्क करें  | Live टीवी
TejNews.com Copyrights2011-2012. All rights reserved. Designed & Developed by : MakSoft.in
 
Hit Counter